ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRDelhi Metro Phase-4: दिल्ली मेट्रो फेज-4 के तीन कॉरिडोर पर काम, पेड़ काटने की मंजूरी मिली; कब दौड़ेगी ट्रेन?

Delhi Metro Phase-4: दिल्ली मेट्रो फेज-4 के तीन कॉरिडोर पर काम, पेड़ काटने की मंजूरी मिली; कब दौड़ेगी ट्रेन?

दिल्ली मेट्रो फेड-4 के तीन कॉरिडोर का अभी 40 फीसदी से अधिक काम हो चुका है। इसे 2026 तक पूरा कर लिया जाएगा। वहीं जनकपुरी पश्चिम से कृष्णा पार्क एक्सटेंशन के बीच अगले साल ट्रेन का परिचालन शुरू होगा।

Delhi Metro Phase-4: दिल्ली मेट्रो फेज-4 के तीन कॉरिडोर पर काम, पेड़ काटने की मंजूरी मिली; कब दौड़ेगी ट्रेन?
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 15 Nov 2023 06:33 AM
ऐप पर पढ़ें

फेज चार में निर्माणाधीन कॉरिडोर के जनकपुरी पश्चिम से कृष्णा पार्क एक्सटेंशन के बीच अगले वर्ष जुलाई से मेट्रो का परिचालन शुरू होगा। यह कॉरिडोर फेज चार में निर्माणाधीन जनकपुरी पश्चिम-आरके आश्रम कॉरिडोर का हिस्सा होगा, जिसकी लंबाई करीब ढाई किलोमीटर होगी। मेट्रो फेज चार के तीन कॉरिडोर का अभी 40 फीसदी से अधिक काम हो चुका है, जो 2026 तक पूरा होगा। 

मेट्रो फेज चार में 65.10 किलोमीटर के कुल तीन कॉरीडोर का निर्माण हो रहा है। इसमें मौजपुर से मजलिस पार्क 12.55 किलोमीटर का, तुगलकाबाद से एयरोसिटी 23.65 किलोमीटर और जनकपुरी पश्चिम से आर के आश्रम 28.92 किलोमीटर शामिल है। वर्ष 2019 में फेज चार का काम शुरू हुआ। तब यह पता था कि सबसे पहले आठ स्टेशन वाले मौजपुर से मजलिस पार्क कॉरिडोर खुलेगा, जो कि मौजूदा पिंक लाइन मुकुंदपुर से शिव विहार का विस्तार लाइन है। अब मेट्रो का कहना है कि सबसे पहले जनकपुरी पश्चिम से आर के आश्रम कॉरीडोर के ढाई किलोमीटर के हिस्से को अगले साल खोल किया जाएगा।

ढाई किलोमीटर हिस्से में भूमिगत लाइन 

जनकपुरी पश्चिम से आर के आश्रम मौजूदा मजेंटा लाइन (बॉटेनिकल गार्डन से जनकपुरी पश्चिम) का हिस्सा है। ढाई किलोमीटर के हिस्से को खुलने के बाद नोएडा के बॉटनिकल गार्डन से जनकपुरी पश्चिम तक आने वाली ट्रेन को कृष्णा पार्क एक्सटेंशन तक जाएगी। यह ढाई किलोमीटर का हिस्से पर भूमिगत लाइन है। इसके अलावा बाकी दो कॉरिडोर में से एक मौजपुर से मजलिस पार्क को 2025 तक शुरू हो जाएगा। इस कॉरिडोर के साथ भजनपुरा के लोगों के मेट्रो के साथ एक डबल डेकर फ्लाईओवर भी मिलेगा जो कि मेट्रो के पिलर के साथ ही बनाया जा रहा है। इसके अलावा बचे हुए कॉरिडोर को वर्ष 2026 तक परिचालन के लिए शुरू करने का लक्ष्य है।

जमीन अधिग्रहण और पेड़ काटने की मंजूरी मिली

दिल्ली मेट्रो फेज चार का काम वर्ष 2019 में शुरू हुआ था। उस समय था कि मेट्रो फेज चार को 2025 तक पूरा कर लिया जाएगा, लेकिन पहले कोरोना के चलते निर्माण प्रभावित हुआ। उसके बाद निर्माण के लिए जरूरी जमीन अधिग्रहण और फिर पेड़ों की कटाई की मंजूरी के चलते निर्माण में देरी हुई। मेट्रो अधिकारियों के मुताबिक, अलग-अलग वजहों से मेट्रो निर्माण में देरी हुई है। अब इसे 2026 तक पूरा कर लिया जाएगा। अगले साल से एक हिस्से पर मेट्रो का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें