ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRDelhi Weather Report : दिल्ली में असर दिखाने लगी ठंड, सुबह के समय कोहरा छाए रहने के आसार

Delhi Weather Report : दिल्ली में असर दिखाने लगी ठंड, सुबह के समय कोहरा छाए रहने के आसार

मौसम विभाग के अनुसार, सफदरजंग में रविवार को अधिकतम तापमान 27.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो सामान्य से एक डिग्री कम है। वहीं, न्यूनतम तापमान 12.2 डिग्री रहा। आर्द्रता का स्तर 98 से 46 फीसदी तक रहा।

Delhi Weather Report : दिल्ली में असर दिखाने लगी ठंड, सुबह के समय कोहरा छाए रहने के आसार
Praveen Sharmaनई दिल्ली। हिन्दुस्तानMon, 20 Nov 2023 06:01 AM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी दिल्ली में सुबह और शाम के वक्त ठंड ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है। आने वाले दिनों में सुबह के समय हल्का कोहरा देखने को मिल सकता है। मानक वेधशाला सफदरजंग में रविवार को अधिकतम तापमान 27.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो सामान्य से एक डिग्री कम है। वहीं, न्यूनतम तापमान 12.2 डिग्री रहा। आर्द्रता का स्तर 98 से 46 फीसदी तक रहा। मौसम विभाग का अनुमान है कि सोमवार को तापमान 12-27 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। सुबह के समय हल्का कोहरा देखने को मिलेगा।

दमघोंटू हवा से मामूली राहत मिली

वहीं, मौसम के कारकों के चलते दिल्ली में प्रदूषण स्तर सुधरा है। इससे लोगों को घुटन भरी हवा से थोड़ी राहत मिली है, मगर अभी भी हवा बेहद खराब श्रेणी में है। वायु गुणवत्ता पूर्व चेतावनी प्रणाली के मुताबिक, अगले तीन-चार दिन ऐसी ही स्थिति रहने के आसार हैं। रविवार को दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 301 रहा, जो बेहद गंभीर श्रेणी में है। शनिवार को यह 319 के अंक पर रहा था।

प्रदूषण में सुधार, सतर्कता की जरूरत राय

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि प्रदूषण स्तर में सुधार हुआ है, लेकिन अभी सतर्क रहने की जरूरत है। ग्रैप चार की पाबंदियां भले हटा ली गई हैं, लेकिन ग्रैप एक, दो और तीन की पाबंदियां अभी लागू रहेंगी। रविवार को पत्रकारवार्ता में उन्होंने कहा कि बीते दो दिन में प्रदूषण स्तर में सुधार हुआ है। रविवार सुबह वायु गुणवत्ता सूचकांक 290 था। पर्यावरण मंत्री ने दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत के लोगों से निवेदन किया है कि प्रदूषण स्तर सुधारा है पर अभी सावधान रहने की जरूरत है। केंद्रीय वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग के अनुसार, दिल्ली में ग्रैप चार की पाबंदियां हटा दी गई हैं। ट्रकों के प्रवेश से भी प्रतिबंध हटा लिया गया है। बीएस-तीन पेट्रोल और बीएस-चार डीजल के चार पहिया वाहनों पर प्रतिबंध लागू रहेगा। सिर्फ सीएनजी, इलेक्ट्रिक और बीएस-छह वाली बसें एनसीआर से दिल्ली में आ सकती हैं।

निर्माण पर पाबंदी रहेगी : पर्यावरण मंत्री ने बताया कि ग्रैप तीन के तहत दिल्ली में निर्माण और विध्वंस गतिविधियों पर प्रतिबंध लागू रहेगा। निर्माण व विध्वंस पर पाबंदी से कुछ विभागों को छूट है, परंतु उन्हें भी दिशा-निर्देशों का पालन करना पड़ेगा।

यहां मिली छूट : रेलवे स्टेशन, मेट्रो, हवाई अड्डे, राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित निर्माण व विध्वंस स्थल, अंतरराज्यीय बस अड्डे, अस्पताल, सड़क एवं राजमार्ग, फ्लाईओवर, बिजली, सीवर लाइन, स्वच्छता परियोजनाओं पर निर्माण संबंधित छूट रहेगी। साथ ही आंतरिक साजसज्जा के काम, प्लंबिंग, बिजली फिटिंग और फर्नीचर के काम पर छूट रहेगी।

इन पर प्रतिबंध रहेगा : उपरोक्त विभागों के अलावा अन्य निर्माण एवं विध्वंस स्थलों पर बोरिंग, ड्रिलिंग, खुदाई व भराई के काम पर अभीप्रतिबंध रहेगा। निर्माण एवं बिल्डिंग संचालन सहित तमाम संचरनात्मक निर्माण कार्य पर पाबंदी रहेगी। विध्वंस के कार्य पर पूरी तरह से पाबंदी रहेगी। विध्वंस साइट पर लोडिंग व अनलोडिंग, कच्चे माल के स्थानांतरण, टाइलों और पत्थरों को काटने, पीसने आदि की गतिविधियों पर पाबंदी रहेगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें