ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRआठ दिसंबर को पेश होगा दिल्ली नगर निगम का बजट, क्या होगा खास

आठ दिसंबर को पेश होगा दिल्ली नगर निगम का बजट, क्या होगा खास

दिल्ली नगर निगम आठ दिसंबर को सदन की बैठक में नए वित्तीय वर्ष का बजट पेश करेगी। नए वित्तीय वर्ष का बजट अनुमान भी साझा होगा। बजट में नए स्कूल और पार्किंग कार्य भी प्रस्तावित होंगे।

आठ दिसंबर को पेश होगा दिल्ली नगर निगम का बजट, क्या होगा खास
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 06 Dec 2023 06:42 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली नगर निगम के नए वित्तीय वर्ष 2024-25 का बजट आठ दिसंबर को निगम की बैठक में पेश होगा। इस विशेष बजट सभा में संशोधित बजट अनुमान वर्ष 2023-24 के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। नए वित्तीय वर्ष का बजट अनुमान भी साझा होगा। इसमें नए वित्तीय वर्ष के बजट में सामान्य प्रशासन, शिक्षा, जन स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सहायता, लोक निर्माण व सफाई कार्य को सबसे ज्यादा बजट मिलने की उम्मीद है। इससे पहले इस वर्ष मार्च 2024 को कुल 16,023 करोड़ रुपये का बजट पेश किया गया था।

इसमें सफाई के लिए 4,465.85 करोड़, सामान्य प्रशासन को 3335.86 करोड़, शिक्षा के लिए 2,847.82 करोड़, लोक निर्माण कार्य व पथ प्रकाश के लिए 1,820.28 करोड़, जन-स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सहायता के लिए 1,719.49 करोड़, बागवानी के लिए 545.80 करोड़, अन्य विकास कार्य के लिए 327.63 करोड़, भूमि एवं लाभकारी परियोजना के लिए 121.73 करोड़, पशु चिकित्सा सेवाओं के लिए 86.18 करोड़, सामुदायिक सेवाओं के लिए 73.84 करोड़ और लाइसेंसिंग के लिए 11.31 करोड़ रुपये का बजट आवंटित हुआ था।

कई नए स्कूल व पार्किंग के निर्माण कार्य होंगे प्रस्तावित 

निगम के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार नए वित्तीय वर्ष में विभिन्न परियोजनाओं को पेश किया जाएगा। यह परियोजनाएं लोगों से जुड़ी होंगी। इनमें निगम के सभी जोन में नई मल्टी लेवल पार्किंग, सरफेस पार्किंग, सामुदायिक हॉल व बारात घर, नए शौचालयों का निर्माण कार्यों से जुड़े प्रोजेक्ट पेश होंगे। इसके अलावा निगम नए स्कूलों का भी निर्माण करेगा। निगम के 200 से अधिक स्कूलों को मॉडल स्कूलों में भी परिवर्तित किया जाएगा

निगम के शौचालय इस्तेमाल लायक नहीं

स्वच्छता के तमाम दावों के बीच दिल्ली नगर निगम के सार्वजनिक शौचालयों की स्थिति सुधरने का नाम नहीं ले रही है। लगभग 20 फीसदी शौचालयों की हालत बेहद खराब है। यह दावा केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की ओर से साफ शौचालय अभियान के तहत हो रहे सर्वेक्षण की रिपोर्ट में किया गया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें