ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRDelhi Weather: दिल्लीवालों को अभी तीन दिन सहना होगा गर्मी का टॉर्चर, फिर राहत; IMD ने बताया कब होगी बारिश

Delhi Weather: दिल्लीवालों को अभी तीन दिन सहना होगा गर्मी का टॉर्चर, फिर राहत; IMD ने बताया कब होगी बारिश

Delhi Weather: गर्मी का सितम सह रहे दिल्लीवालों को अभी तीन दिन और गर्मी सताएगी। इसके बाद हल्की बारिश से थोड़ी राहत मिलेगी। पश्चिमी विक्षोभ के चलते यह फुहारें बरसेंगी। बुधवार सीजन का गर्म दिन रहा।

Delhi Weather: दिल्लीवालों को अभी तीन दिन सहना होगा गर्मी का टॉर्चर, फिर राहत; IMD ने बताया कब होगी बारिश
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 11 Apr 2024 05:30 AM
ऐप पर पढ़ें

Delhi Weather: राजधानी के लोगों को अगले तीन दिनों तक तेज गर्मी का सामना करना पड़ेगा। हालांकि, इसके बाद पश्चिमी विक्षोभ के चलते हल्की बारिश होने की संभावना है। इससे अधिकतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आएगी। बुधवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री ज्यादा रहा। दिल्ली में तेज धूप के कारण लोगों को गर्मी का सामना करना पड़ रहा है। 

बुधवार को मानक वेधशाला सफदरजंग में अधिकतम तापमान 39.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। यह इस साल का अब तक का सबसे गर्म दिन रहा। वहीं, न्यूनतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस रहा। यह सामान्य से तीन डिग्री कम है। आर्द्रता का स्तर 55 से 26 फीसदी तक रहा। मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले तीन दिनों के बीच अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस तक ही रहने का अनुमान है।

फिलहाल नहीं चलेगी लू

आंकड़ों के अनुसार, बुधवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान इस मौसम के औसत से चार डिग्री अधिक था, जबकि न्यूनतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो मौसम के औसत से तीन डिग्री कम था। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक एवं प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि इस सप्ताह तापमान लगभग 40 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ने की उम्मीद है, लेकिन फिलहाल लू चलने की कोई संभावना नहीं है क्योंकि दिल्ली में 13 और 14 अप्रैल को गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।

वायु गुणवत्ता फिर खराब श्रेणी में पहुंची

राजधानी की हवा एक बार फिर खराब श्रेणी में पहुंच गई है। बुधवार को दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 200 अंकों के पार हो गया है। अगले दो दिन भी हवा के लगभग ऐसी ही स्थिति में रहने का अनुमान है। मौसम के अलग-अलग कारणों के चलते फरवरी और मार्च में आमतौर पर प्रदूषण का स्तर साफ रहा। 

अप्रैल में भी अब तक गुणवत्ता साफ थी, लेकिन पिछले कुछ दिनों से हवा में प्रदूषक कण पीएम 10 और पीएम 2.5 का स्तर बढ़ा है। इसके चलते भी हवा खराब श्रेणी में पहुंच गई है। सीपीसीबी के मुताबिक, बुधवार को दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 222 अंक पर रहा।