दिल्ली : व्यक्ति ने सहानुभूति हासिल करने को दोस्तों से खुद पर कराया था हमला, दो आरोपी गिरफ्तार

नई दिल्ली। भाषा Last Modified: Thu, Apr 01 2021. 18:54 PM IST
offline

सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देकर लोगों से रुपये ऐंठने वाले दिल्ली के एक व्यक्ति ने रुपये लौटाने से बचने और लोगों की सहानुभूति हासिल करने के लिए अपने दोस्तों से खुद पर गोली चलवाई, जिसके बाद पुलिस ने हमला करने के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि मोहम्मद अब्बास ने ही खुद पर हमला कराने की साजिश रची थी, क्योंकि वह लोगों का पैसा वापस नहीं करना चाहता था।

पुलिस उपायुक्त (पूर्व) दीपक यादव ने बताया कि योजना के अनुसार, जुबेर अहमद (42) और राशिद (36) पूर्वी दिल्ली के कल्याणपुरी में घटनास्थल पहुंचे, जहां अब्बास उनसे मिला। जुबेर ने अब्बास की कमर पर गोली चलाई और इसके बाद वे मेरठ भाग गए।

पुलिस ने बताया कि इटली निर्मित एक पिस्तौल, एक जिंदा कारतूस और एक स्कूटर भी मेरठ के रहने वाले जुबेर और राशिद के पास से बरामद किए गए हैं। उन्होंने बताया कि 17 मार्च रात करीब एक बजकर 20 मिनट पर पुलिस को सूचना मिली कि अब्बास को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और उसे गोली लगी थी।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि जांच के दौरान अब्बास ने यह कहकर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की कि दो अज्ञात लोगों ने उस पर हमला किया और हसन मोहम्मद नाम का व्यक्ति इस हमले के पीछे था।

उन्होंने बताया कि अब्बास पटियाला हाउस कोर्ट में काम करता है और उसने हसन मोहम्मद के रिश्तेदार शाह आलम से छह लाख रुपये लिए थे। उसने अन्य लोगों से भी पैसे लिए थे।

अधिकारी ने कहा कि टेक्निकल सर्विलॉन्स के आधार पर अब्बास के दोस्त जुबेर को गिरफ्तार किया गया। पुलिस के सामने उसने खुलासा किया कि अब्बास ने उस पर हमला करने के लिए उसे 50,000 रुपये देने का लालच दिया था।

ऐप पर पढ़ें

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।
हिन्दुस्तान मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें