ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली में कल डेढ़ करोड़ वोटर करेंगे मताधिकार का इस्तेमाल, 60000 कर्मी तैनात; ड्रोन कैमरों से रहेगी नजर

दिल्ली में कल डेढ़ करोड़ वोटर करेंगे मताधिकार का इस्तेमाल, 60000 कर्मी तैनात; ड्रोन कैमरों से रहेगी नजर

राजधानी दिल्ली में लोकसभा चुनाव का सियासी मैदान पूरी तरह से सज कर तैयार हो गया है। दिल्ली की सभी सातों सीटों पर 25 मई को वोट डाले जाएंगे। इसके लिए चुनाव आयोग ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं।

दिल्ली में कल डेढ़ करोड़ वोटर करेंगे मताधिकार का इस्तेमाल, 60000 कर्मी तैनात; ड्रोन कैमरों से रहेगी नजर
delhi police ht
Praveen Sharmaनई दिल्ली। पीटीआईFri, 24 May 2024 11:16 AM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी दिल्ली में लोकसभा चुनाव का सियासी मैदान पूरी तरह से सज कर तैयार हो गया है। दिल्ली की सभी सातों सीटों पर 25 मई को वोट डाले जाएंगे। इसके लिए चुनाव आयोग ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। अर्धसैनिक बलों की 51 कंपनियों और उत्तराखंड, राजस्थान और मध्य प्रदेश के 13,500 होम गार्ड सहित 60,000 कर्मियों और ड्रोन और सीसीटीवी कैमरों के साथ, दिल्ली पुलिस लोकसभा चुनाव कराने के लिए पूरी तरह तैयार है।

दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीटों- पूर्वी दिल्ली, नई दिल्ली, उत्तर पूर्वी दिल्ली, उत्तर पश्चिमी दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली और चांदनी चौक के लिए इस बार 1.52 करोड़ से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे।

दिल्ली में इस बार 429 संवेदनशील मतदान केंद्र

डीसीपी (इलेक्शन सेल) संजय सहरावत ने बताया कि राजधानी में शांतिपूर्ण चुनाव सुनिश्चित करने के लिए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। डीसीपी ने कहा कि वोटिंग के दिन दिल्ली में लगभग 60,000 पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे और उनमें से कम से कम 33,000 पुलिसकर्मी मतदान केंद्रों की सुरक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि कुल 2,628 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जिनमें से 429 संवेदनशील हैं। इन संवेदनशील मतदान केंद्रों पर ड्रोन और सीसीटीवी कैमरों के साथ अतिरिक्त अर्धसैनिक बल तैनात किए जाएंगे। 

पुलिस अधिकारी ने कहा कि मतदान के दिन मध्य प्रदेश, राजस्थान और उत्तराखंड से लगभग 13,500 और दिल्ली से 4,000 होम गार्ड भी तैनात किए जाएंगे। इसके अलावा ट्रैफिक पुलिस, दिल्ली पुलिस की पीसीआर यूनिट भी अपने-अपने इलाकों में नजर रखेंगी।

वोटिंग वाले दिन दिल्ली के बॉर्डरों पर रहेगी पैनी नजर

एक अन्य पुलिस अधिकारी ने कहा कि मतदान से एक दिन पहले से दिल्ली की सीमाओं पर जांच और बढ़ाई जाएगी।दिल्ली की सीमाएं उत्तर प्रदेश और हरियाणा से लगती हैं। पुलिस अधिकारी किसी भी अवैध गतिविधि को रोकने के लिए दोनों राज्यों में अपने समकक्षों के संपर्क में हैं। उन्होंने कहा कि आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद से दिल्ली पुलिस ने लगभग 14 करोड़ रुपये की बेहिसाब नकदी बरामद की है। अधिकारी ने कहा कि नागरिकों का आत्मविश्वास बढ़ाने और असामाजिक तत्वों पर लगाम लगाने के लिए फ्लैग मार्च, पैदल मार्च पहले ही दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में किया जा चुका है।

पुलिस ने कई दिल्ली के कई हिस्सों में किया फ्लैग मार्च

स्पेशल पुलिस कमिश्नर (लॉ एंड ऑर्डर, जोन II) मधुप तिवारी ने दक्षिण पूर्व जिले और दक्षिण जिले में जामिया, शाहीन बाग, ओखला औद्योगिक क्षेत्र, अंबेडकर नगर, संगम विहार के क्षेत्रों को कवर करते हुए 22 और 23 मई को मालवीय नगर और तिगड़ी में एक फ्लैग मार्च और क्षेत्र प्रभुत्व अभ्यास किया।

तिवारी ने कहा, "हमारी प्राथमिकता सभी मतदाताओं के लिए एक सुरक्षित और अनुकूल माहौल बनाना है। किसी भी अप्रिय घटना को रोकने और निवासियों के बीच विश्वास पैदा करने के लिए फ्लैग मार्च और क्षेत्र प्रभुत्व हमारी व्यापक रणनीति का हिस्सा है।"

सभी लोगों से वोट डालने की अपील

जॉइंट पुलिस कमिश्नर (दक्षिणी रेंज) एसके जैन ने कहा कि मतदान सिर्फ एक अधिकार नहीं है, बल्कि प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है। हम सभी से आग्रह करते हैं कि वे आगे आएं और आत्मविश्वास के साथ अपना वोट डालें। शांतिपूर्ण और घटना मुक्त चुनाव सुनिश्चित करने के लिए पुलिस टीमें चौबीसों घंटे लगातार काम कर रही हैं। उन्होंने मतदाताओं से यह भी अनुरोध किया कि वे अपने संबंधित क्षेत्रों में किसी भी चुनावी कदाचार या प्रलोभन या किसी भी प्रकार की संदिग्ध या अवैध गतिविधियों के मामले में अधिकारियों को सूचित करें। जैन ने कहा कि सूचना दिल्ली पुलिस नियंत्रण कक्ष को 112 नंबर पर दी जा सकती है।