ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRसंजय सिंह के बाद मनीष सिसोदिया का भी जेल में मनेगा नया साल, कोर्ट ने बढ़ाई हिरासत

संजय सिंह के बाद मनीष सिसोदिया का भी जेल में मनेगा नया साल, कोर्ट ने बढ़ाई हिरासत

कोर्ट ने मनीष सिसोदिया के वकील को सीबीआई मुख्यालय में दस्तावेजों का जांच करने के लिए 15 जनवरी तक का समय दिया है। सीबीआई को आदेश दिया है कि निरीक्षण की सुविधा के लिए पर्याप्त अधिकारी तैनात किए जाएं

संजय सिंह के बाद मनीष सिसोदिया का भी जेल में मनेगा नया साल, कोर्ट ने बढ़ाई हिरासत
Aditi Sharmaलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीFri, 22 Dec 2023 02:54 PM
ऐप पर पढ़ें

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह के बाद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को भी कथित शराब घोटाला मामले में बड़ा झटका लगा है। राउज एवेन्यू कोर्ट ने उनकी न्यायिक हिरासत 19 जनवरी 2024 तक बढ़ा दी है। ऐसे में संजय सिंह के बाद मनीष सिसोदिया का भी नया साल जेल में भी मनेगा। कोर्ट ने अगली सुनवाई यानी 19 जनवरी तक उनकी कस्टडी बढ़ाने का आदेश दिया है। इससे पहले गुरुवार को संजय सिंह की न्यायिक हिरासत 10 जनवरी तक बढ़ा दी गई थी।

बता दें, मनीष सिसोदिया कथित शराब घाटाला मामले में सह आरोपी हैं और लंबे समय से जेल में बंद हैं। आज उनकी न्यायिक हिरासत खत्म होने के बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया था। इसी के साथ कोर्ट ने सीबीआई की तरफ से दाखिल चार्जशीट पर संज्ञान लेते हुए मामले की सुनवाई की।

कोर्ट ने सिसोदिया समेत सभी आरोपियों के वकील को सीबीआई मुख्यालय में दस्तावेजों की जांच करने के लिए 15 जनवरी तक का समय दिया है। कोर्ट ने सीबीआई को जांच की सुविधा के लिए पर्याप्त अधिकारी तैनात करने और अनुपालन रिपोर्ट दाखिल करने का भी निर्देश दिया है। 

जानकारी के मुताबिक वकील सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे के बीच सीबीआई हेडक्वार्टर जाकर दस्तावेजों की जांंच कर सकते हैं। वहीं सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि चार्जशीट से जुड़े सभी दस्तावेज सिसोदिया समेत सभी आरोपियों को दे दिए गए हैं। वहीं कोर्ट ने सीबीआई को आदेश दिया है कि तीनों आरोपियों को चार्जशीट की कॉपी डीवीडी फॉर्मेट में भी सौंप दें। 

आरोपियों के वकीलों को फटकार

कोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए आरोपियों के वकीलों को फटकार लगाई और कहा कि आप लोग जानबूझकर देरी करना चाहते हैं। इसके बाद कोर्ट ने मनीष सिसोदिया की न्यायिक हिरासत 19 जनवरी तक बढ़ा दी। बता दें, सीबीआई और ईडी दोनों ने ही मनीष सिसोदिया के खिलाफ केस दर्ज किया था जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। कई बार उन्होंने जमानत याचिका दाखिल की लेकिन हर बार खारिज हो गई। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें