ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRक्या कोर्ट के फैसले तक ईडी के सामने नहीं पेश होंगे केजरीवाल? AAP ने दिए ये संकेत- VIDEO

क्या कोर्ट के फैसले तक ईडी के सामने नहीं पेश होंगे केजरीवाल? AAP ने दिए ये संकेत- VIDEO

क्या दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल अदालत के फैसले तक ईडी के सामने पेश नहीं होंगे? आम आदमी पार्टी ने इस मसले पर बयान जारी किया है। बयान से क्या मिल रहे संकेत इस रिपोर्ट में जानें...

क्या कोर्ट के फैसले तक ईडी के सामने नहीं पेश होंगे केजरीवाल? AAP ने दिए ये संकेत- VIDEO
Krishna Singhभाषा,नई दिल्लीMon, 19 Feb 2024 07:12 PM
ऐप पर पढ़ें

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सोमवार को दिल्ली के कथित शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ के लिए ईडी के सामने पेश नहीं हुए। ईडी ने छठी बार समन जारी करते हुए केजरीवाल को सोमवार को तलब किया था। इस मामले पर अब आम आदमी पार्टी का बयान सामने आया है। आम आदमी पार्टी (आप) ने छठे समन को 'अवैध' करार देते हुए कहा कि ईडी को केजरीवाल को बार-बार समन भेजने के बजाय अदालत के फैसले का इंतजार करना चाहिए। जानें AAP के बयान से क्या मिल रहे संकेत...

आम आदमी पार्टी की प्रवक्ता प्रियंका कक्कड़ ने कहा कि जब ईडी पहले ही दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ अदालत का रुख कर चुकी है। सीएम अरविंद केजरीवाल पहले ही 17 फरवरी को वर्चुअली अदालत में पेश हो चुके हैं। वह 16 मार्च को दोबारा पेश होंगे। इस मामले में जो भी फैसला आएगा, हम उसे स्वीकार करेंगे। ऐसे में ईडी को भी अदालत के फैसले का इंतजार करना चाहिए। 

उल्लेखनीय है कि केजरीवाल की ओर से कई समन को नजरअंदाज करने पर ईडी ने इस महीने की शुरुआत में एक अदालत का दरवाजा खटखटाया था। केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा में पत्रकारों से कहा कि ईडी को कानून के मुताबिक जवाब दिया जा रहा है। हम कानून के मुताबिक जवाब दे रहे हैं। अब, ईडी ने अदालत में मामला दायर किया है। उसे कोई नया समन जारी करने से पहले अदालत के फैसले का इंतजार करना चाहिए।

राउज एवेन्यू अदालत ने शनिवार को केंद्रीय एजेंसी द्वारा दायर शिकायत के संबंध में केजरीवाल को दिन भर के लिए व्यक्तिगत उपस्थिति से छूट दे दी थी। केजरीवाल के वकील की ओर से अदालत को बताया गया कि दिल्ली विधानसभा का बजट सत्र 15 फरवरी से शुरू हो गया है। यह मार्च के पहले हफ्ते तक चलेगा। अदालत को यह भी बताया गया कि केजरीवाल अदालत के समक्ष सुनवाई की अगली तारीख 16 मार्च को उपस्थित होंगे।

वहीं भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि अदालत ने भी माना है कि केजरीवाल को ईडी की ओर से भेजा गया समन वैध था और उन्हें जांच में सहयोग करना चाहिए। यदि केजरीवाल अदालत के बयान के बावजूद ईडी के समन को अवैध बताते हैं तो यह अदालत की अवमानना होगी। वहीं ईडी के सूत्रों ने कहा कि एजेंसी इस मामले में पूछताछ के लिए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को नया समन जारी कर सकती है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें