ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRईमेल कीजिए, हम गौर करेंगे; फिर दरवाजा खटखटाने पर सिसोदिया से SC

ईमेल कीजिए, हम गौर करेंगे; फिर दरवाजा खटखटाने पर सिसोदिया से SC

जेल में बंद आम आदमी पार्टी (आप) के नेता मनीष सिसोदिया ने उच्चतम न्यायालय में अपनी उन दो क्यूरेटिव पिटीशन  पर जल्द सुनवाई का सोमवार को अनुरोध किया। कोर्ट ने सिसोदिया की अपील पर गौर करने की बात कही है।

ईमेल कीजिए, हम गौर करेंगे; फिर दरवाजा खटखटाने पर सिसोदिया से SC
Sudhir Jhaभाषा,नई दिल्लीMon, 04 Mar 2024 02:31 PM
ऐप पर पढ़ें

जेल में बंद आम आदमी पार्टी (आप) के नेता मनीष सिसोदिया ने उच्चतम न्यायालय में अपनी उन दो क्यूरेटिव पिटीशन  पर जल्द सुनवाई का सोमवार को अनुरोध किया, जिनमें कथित शराब घोटाले से जुड़े केसों में उन्हें जमानत देने से इनकार करने के कोर्ट के 2023 के फैसले को चुनौती दी गई है।

सिसोदिया की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक सिंघवी ने प्रधान न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति जे बी पारदीवाला और न्यायमूर्ति मनोज मिश्रा की पीठ से कहा कि एक अधीनस्थ अदालत ने कहा है कि वह क्यूरेटिव पिटीशन पर फैसला होने तक जमानत याचिका पर सुनवाई नहीं करेगी। पीठ ने इसके जवाब में कहा, ‘ईमेल भेजिए, हम इस पर गौर करेंगे।’

दिल्ली की एक अदालत ने सिसोदिया की जमानत याचिका पर सुनवाई टालते हुए कहा था कि इस मामले से संबंधित अर्जी सुप्रीम कोर्ट के सामने लंबित है। उच्चतम न्यायालय ने सिसोदिया की जमानत याचिकाओं को खारिज करने संबंधी अपने फैसले पर पुनर्विचार करने के अनुरोध वाली याचिका 14 दिसंबर, 2023 को खारिज कर दी थी। न्यायालय ने कहा था कि साक्ष्य जांच एजेंसी के इस आरोप का अस्थायी रूप से समर्थन करते हैं कि शराब के कुछ थोक वितरकों को 338 करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाया गया।

सिसोदिया को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने 26 फरवरी, 2023 को 'घोटाले' में उनकी कथित भूमिका के मामले में गिरफ्तार किया था। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सीबीआई की प्राथमिकी से जुड़े धनशोधन के मामले में तिहाड़ जेल में पूछताछ के बाद सिसोदिया को नौ मार्च, 2023 को गिरफ्तार किया था। सिसोदिया ने 28 फरवरी, 2023 को दिल्ली कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें