ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली में असर दिखाने लगी सर्दी, 2 डिग्री तक लुढ़का पारा; आसमान में फिर जमी धुंध की मोटी परत

दिल्ली में असर दिखाने लगी सर्दी, 2 डिग्री तक लुढ़का पारा; आसमान में फिर जमी धुंध की मोटी परत

राजधानी दिल्ली में ठंड ने अब असर दिखाना शुरू कर दिया है। दिल्ली में मंगलवार को अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहे, जिससे ठंड में इजाफा होना शुरू हो गया है।

दिल्ली में असर दिखाने लगी सर्दी, 2 डिग्री तक लुढ़का पारा; आसमान में फिर जमी धुंध की मोटी परत
Praveen Sharmaनई दिल्ली। हिन्दुस्तानWed, 22 Nov 2023 05:38 AM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी दिल्ली में ठंड ने अब असर दिखाना शुरू कर दिया है। दिल्ली में मंगलवार को अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहे, जिससे ठंड में इजाफा होना शुरू हो गया है। दिल्ली की मानक वेधशाला सफदरजंग में अधिकतम तापमान 26.2 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से दो डिग्री कम है, जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 11.5 डिग्री रहा। यहां आर्द्रता का स्तर 95 से 56 फीसदी तक रहा।  मौसम विभाग का अनुमान है कि बुधवार सुबह हल्का कोहरा देखने को मिल सकता है। दिन में आसमान साफ रहेगा। हवा की रफ्तार सुबह और दिन के समय चार किलोमीटर प्रतिघंटे तक की रहेगी।

आसमान में फिर धुंध की मोटी परत जमी 

राजधानी के वायुमंडल में एक बार फिर से स्मॉग की मोटी परत जम गई है, जिससे दृश्यता का स्तर भी प्रभावित हो रहा है और हवा दमघोंटू हो गई है। मंगलवार को दिल्ली के पांच इलाकों का वायु गुणवत्ता सूचकांक 400 या उससे ऊपर रहा। अगले तीन-चार दिन जहरीली हवा से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। 

दिल्लीवासी इस बार नवंबर के महीने में पहले से ज्यादा प्रदूषण का सामना कर रहे हैं। इस पूरे महीने में अब तक एक दिन भी ऐसा नहीं रहा है जब वायु गुणवत्ता का स्तर 200 से नीचे आया हो यानी हवा सांस लेने लायक हुई हो। इस बीच में ज्यादातर प्रदूषण का स्तर खराब, बेहद खराब, गंभीर या अत्यंत गंभीर श्रेणी में ही रहा है। हवा की दिशा में बदलाव होने के बाद प्रदूषण स्तर में शनिवार और रविवार को हल्का सुधार हुआ था, परंतु अब हवा शांत होने से प्रदूषण का स्तर बढ़ा है। मौसम विभाग के मुताबिक शाम को साढ़े चार बजे सफदरजंग मौसम केंद्र में दृश्यता का स्तर 1500 मीटर तक रहा। सामान्य तौर पर यह 2000 मीटर होना चाहिए।

तीन दिन तक राहत मिलने की उम्मीद नहीं

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा तैयार वायु गुणवत्ता पूर्व चेतावनी प्रणाली के अनुसार, अगले तीन दिन ज्यादातर समय हवा शांत रहेगी। अगले तीन दिन प्रदूषण का स्तर बेहद खराब श्रेणी में ही रहने का अनुमान है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें