ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली में हॉरर किलिंग! पसंद के लड़के से शादी पर अड़ी थी बेटी, नाराज पिता ने दिल्ली बुलाकर मार डाला

दिल्ली में हॉरर किलिंग! पसंद के लड़के से शादी पर अड़ी थी बेटी, नाराज पिता ने दिल्ली बुलाकर मार डाला

दिल्ली के कंझावला में हॉरर किलिंग का एक मामला सामने आया है। पिता ने रविवार रात अपनी बेटी की हत्या कर शव को चांदपुर गांव के पास खेत में फेंक दिया। पुलिस को सीसीटीवी फुटेज से सबूत मिला।

दिल्ली में हॉरर किलिंग! पसंद के लड़के से शादी पर अड़ी थी बेटी, नाराज पिता ने दिल्ली बुलाकर मार डाला
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 18 Jun 2024 06:47 AM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी दिल्ली के कंझावला इलाके में हॉरर किलिंग का मामला सामने आया है। एक शख्स ने रविवार रात अपनी बेटी की हत्या कर शव को चांदपुर गांव के पास खेत में फेंक दिया। खेत में शव देखकर लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जांच में सामने आया कि युवती अपनी पसंद के युवक से शादी करना चाहती थी। इससे नाराज होकर पिता ने वारदात को अंजाम दिया है।

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसकी बेटी परिजनों की मर्जी के खिलाफ शादी करना चाहती थी। इसलिए उसने ब्लेड से बेटी का गला रेतकर हत्या कर दी। फिलहाल, पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया है। पुलिस उपायुक्त डॉ. गुरइकबाल सिंह सिद्धू ने बताया कि 16 जून की रात 853 बजे पुलिस को चांदपुर गांव के खेत में एक युवती का शव होने की सूचना मिली। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर हत्या की धारा में एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

सीसीटीवी फुटेज से मिला सबूत 

रोहिणी जिला पुलिस की स्पेशल स्टाफ और कंझावला थाने की संयुक्त टीम ने जांच के दौरान स्थानीय लोगों से पूछताछ की। इस दौरान पता चला कि एक शख्स कैब लेकर आया था और खेत में शव फेंककर फरार हो गया। टीम ने इलाके में लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की तो एक संदिग्ध कैब दिखाई दी। कैब के नंबर की मदद से टीम कैब मालिक तक पहुंची। चालक ने बताया कि उसके दोस्त नंद किशोर ने उसे कैब लेकर आने के लिए कहा था। वह नंदकिशोर को लंबे समय से जानता है। वह मूलत बिहार के मुजजफरपुर का रहने वाला है और दिल्ली में प्रेम नगर में रहता है। पुलिस ने कैब को जब्त कर चालक की निशानदेही पर नंदकिशोर को गिरफ्तार कर लिया।

बिहार से बुलाया था

पूछताछ में नंदकिशोर ने बताया कि उसकी 21 वर्षीय बेटी अपनी मां के साथ मुज्जफरपुर स्थित गांव में रहती थी। पत्नी ने कुछ दिन पहले उसे बताया था कि बेटी लंबे समय से एक लड़के के सम्पर्क में है। वह दूसरी जाति है और दोनों शादी करना चाहते हैं। नंदकिशोर ने बेटी को समझा और उस लड़के से नहीं मिलने के लिए कहा। बेटी ने पिता की बात को अनदेखा किया और लड़के से मिलना जारी रखा। कई बार समझाने के बाद भी वह नहीं मानी तो नंदकिशोर से उसे मिलने के बहाने से दिल्ली बुलाया और रविवार रात को खेत में ले जाकर उसकी हत्या कर दी।