ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRआप कोई कदम नहीं उठा रहे, फूड प्रोडक्ट्स की जांच पर हाईकोर्ट ने FSSAI को खूब सुनाया

आप कोई कदम नहीं उठा रहे, फूड प्रोडक्ट्स की जांच पर हाईकोर्ट ने FSSAI को खूब सुनाया

दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने बुधवार को खाद्य उत्पादों के परीक्षण में तेजी लाने की आवश्यकता पर जोर देते हुए एफएसएसएआई को खूब सुनाया। साथ ही इस मसले पर दिल्ली सरकार से हलफनामा भी मांगा है।

आप कोई कदम नहीं उठा रहे, फूड प्रोडक्ट्स की जांच पर हाईकोर्ट ने FSSAI को खूब सुनाया
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 08 May 2024 09:35 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने बुधवार को दिल्ली में खाद्य उत्पादों के परीक्षण में तेजी लाने की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि खाद्य चक्र दूषित हो गया है। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश मनमोहन (Acting Chief Justice Manmohan) की अध्यक्षता वाली पीठ ने विशेष रूप से दूध और दूध उत्पादों की गुणवत्ता पर चिंता जताते हुए दिल्ली सरकार से परीक्षण के स्तर, यहां खाद्य-निरीक्षण टीमों की संख्या और बजट के संबंध में एक हलफनामा मांगा। 

पीठ ने कहा कि एफएसएसएआई को परीक्षण बढ़ाने की जरूरत है। हम किस तरह के उत्पाद खा रहे हैं हम नहीं जानते। हमारा भोजन चक्र इतना खराब हो चुका हैं और आप कोई कदम नहीं उठा रहे हैं। आप किसी आइवरी टॉवर में रह रहे हैं। आप चुनें किसी भी खाद्य उत्पाद में बहुत अधिक कीटनाशक है। अदालत ने कहा आपको अपनी जांच करने शक्तियों का प्रयोग करना चाहिए। 

आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि पर्याप्त परीक्षण हो। एफएसएसएआई के वकील ने कहा कि खाद्य परीक्षण राज्य खाद्य सुरक्षा आयुक्तों द्वारा किया जाता है। उन्होंने कहा, दिल्ली की जनसंख्या को देखिए, प्रतिदिन कितना भोजन उपभोग हो रहा है। दिल्ली में कितने एफएसओ है। नमूनाकरण में तेजी लाने की जरूरत है। 

अदालत ने आदेश दिया- खाद्य आपूर्ति आयुक्त को परीक्षण के स्तर और खाद्य निरीक्षण टीमों की संख्या और विभाग के बजट का संकेत देते हुए एक व्यक्तिगत हलफनामा दाखिल करने का निर्देश दिया जाता है। अधिकारी को भी 7 अगस्त को सुनवाई की अगली तारीख पर कार्यवाही में शामिल होना है। सुनवाई के दौरान, एमिकस क्यूरी (अदालत के मित्र) ने आमों को कृत्रिम रूप से पकाने के लिए कैल्शियम कार्बाइड के उपयोग के संबंध में भी चिंता जताई और कहा कि इसमें कुछ भी नहीं है।