ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRनिजामुद्दीन दरगाह के पास अतिक्रमण की होगी सीबीआई जांच, दिल्ली हाईकोर्ट का आदेश

निजामुद्दीन दरगाह के पास अतिक्रमण की होगी सीबीआई जांच, दिल्ली हाईकोर्ट का आदेश

दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने सीबीआई को राष्ट्रीय राजधानी में निजामुद्दीन बावली और बाराखंभा मकबरे के पास अवैध निर्माणों की जांच शुरू करने का निर्देश दिया है। पढ़ें यह रिपोर्ट...

निजामुद्दीन दरगाह के पास अतिक्रमण की होगी सीबीआई जांच, दिल्ली हाईकोर्ट का आदेश
Krishna Singhहिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 20 Feb 2024 10:37 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली हाईकोर्ट ने राजधानी में अवैध निर्माण को लेकर चिंता जताई है। न्यायालय ने एमसीडी और डीडीए से ऐसे मामलों से निपटने के लिए संरचनात्मक सुधार करने को कहा है। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश मनमोहन एवं न्यायमूर्ति मनमीत प्रीतम सिंह अरोड़ा की पीठ ने निजामुद्दीन दरगाह और बावली के पास एक गेस्ट हाउस के अनाधिकृत निर्माण को लेकर दिल्ली पुलिस की ओर से दर्ज की गई एक प्राथमिकी की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौंप दी।

याचिका में डीडीए, भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) और अन्य प्राधिकरणों के अनाधिकृत निर्माण को रोकने में विफलता के लिए अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई व गेस्ट हाउस को तोड़ने की मांग की गई थी। विचाराधीन गेस्ट हाउस का निर्माण केंद्रीय संरक्षित स्मारक बाराखंभा मकबरा और निज़ामुद्दीन बावली के 50 मीटर के दायरे में आने वाले क्षेत्र में किया जा रहा था।

पीठ ने चिंता जताते हुए कहा कि नियंत्रण और संतुलन की विस्तृत व्यवस्था के बावजूद दिल्ली में इतने बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण हो रहा है। वह भी दिल्ली के बीचोंबीच। इसको लेकर प्रशासनिक जिम्मेदारी तय की जानी चाहिए और गेस्ट हाउस के अवैध निर्माण में पक्षों की भूमिका की भी जांच की जानी चाहिए। 

पीठ ने इसके साथ ही एमसीडी आयुक्त और डीडीए के उपाध्यक्ष से मामले में जांच करते हुए अवैध निर्माण के जिम्मेवार अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करने की बात भी कही। उसने यह भी कहा कि पुलिस ने पहले से ही एक प्राथमिकी दर्ज कर रखी है, इसलिए यह अदालत इसकी जांच सीबीआई को स्थानांतरित करने का निर्देश देती है। वह तथ्यों की जांच करे और यदि कोई आपराधिक मामला बनता है तो उसे तार्किक निष्कर्ष तक ले जाए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें