DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निर्वाचन को चुनौती : दिल्ली हाईकोर्ट ने डॉ. हर्षवर्धन और हंसराज हंस से मांगा जवाब

bjp mp dr  harsh vardhan and hans raj hans  file photo

दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्रीय मंत्री और चांदनी चौक लोकसभा सीट से भाजपा सांसद डॉ. हर्षवर्धन और उत्तर-पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट से भाजपा सांसद हंसराज हंस से गुरुवार को उन याचिकाओं पर जवाब मांगा जिसमें लोकसभा के लिए उनके निर्वाचन को चुनौती दी गई है।

जस्टिस नवीन चावला ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री को नोटिस जारी कर याचिका पर उनका जवाब मांगा। याचिका में संसद के निचले सदन में उनके निर्वाचन को अमान्य घोषित करने का अनुरोध किया गया है। 

न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, चांदनी चौक निर्वाचन क्षेत्र से मतदाता होने का दावा करने वाले अरुण कुमार ने यह याचिका दायर की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि भाजपा नेता अपनी पत्नी द्वारा खरीदे गए आवासीय अपार्टमेंट की असल कीमत का खुलासा ना करके भ्रष्टाचार में संलिप्त हैं। हाईकोर्ट ने मामले पर अगली सुनवाई के लिए 24 सितंबर की तारीख तय की है। अप्रैल-मई में हुए संसदीय चुनावों में डॉ. हर्षवर्धन ने कांग्रेस के जय प्रकाश अग्रवाल और आम आदमी पार्टी के पंकज गुप्ता को हराकर चांदनी चौक सीट पर जीत हासिल की थी।

कोर्ट ने हंसराज हंस के नामांकन दस्तावेज सुरक्षित रखने को कहा

वहीं, जस्टिस जयंत नाथ ने चुनाव आयोग से नामांकन पत्र दायर करने के समय भाजपा सांसद हंसराज हंस द्वारा दाखिल किए गए दस्तावेजों को सुरक्षित रखने को कहा। कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई की तारीख 18 सितंबर को निर्धारित की।

यह याचिका कांग्रेस उम्मीदवार राजेश लिलोठिया ने दायर की है। उत्तर-पश्चिम दिल्ली संसदीय क्षेत्र से वह हंसराज हंस के खिलाफ चुनाव मैदान में थे। अधिवक्ता विक्रम दुआ और सुनील कुमार द्वारा दायर याचिका में दावा किया गया है कि हंसराज हंस ने 2019 के चुनाव के लिए अपने नामांकन पत्र के साथ दायर हलफनामे में गलत सूचना दी थी।

याचिका में आरोप लगाया गया है कि गायक से नेता बने हंस ने अपनी पत्नी की आय, 2.5 करोड़ रुपये की देनदारी और अपनी शिक्षा के बारे में गलत जानकारी दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Delhi HC seeks response of BJP MP Dr Harsh Vardhan and Hans Raj Hans on plea challenging their LS election