DA Image
1 अप्रैल, 2020|7:32|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली सरकार का एक और बड़ा फैसला, कोरोना वायरस के रोगियों के इलाज में लगे सभी स्वास्थ्य कर्मियों का होगा टेस्ट

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने गुरुवार को सभी जिलाधिकारियों और पुलिस उपायुक्तों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक की। बैठक में दिल्ली सरकार ने आज Coronavirus पॉजिटिव रोगियों के इलाज में शामिल सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों का टेस्ट कराने का फैसला लिया है। दिल्ली सरकार ने यह फैसला बुधवार को मोहल्ला क्लीनिक के एक डॉक्टर में कोरोना वायरस पाए जाने के बाद लिया है। 

कोरोना वायरस पर हुई बैठक पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कहा कि जितनी भी जरूरी सुविधाएं देने वाले लोग हैं वो 1031 नंबर पर फोन कर अपना ई-पास ले सकते हैं। जिन फैक्ट्री वालों को अपने कर्मियों के लिए पास चाहिए वो भी इस प्रक्रिया की मदद से ले सकते हैं।

केजरीवाल ने कहा कि खाद्य सामग्री की होम डिलीवरी सेवाओं की अनुमति दी गई है। इनके वितरण में लगे व्यक्ति अपने आईडी कार्ड दिखा सकते हैं, जो पर्याप्त होंगे। मोहल्ला क्लीनिक काम करते रहेंगे, लेकिन पूरी सावधानी के साथ। 

वहीं, उपराज्यपाल अनिल बैजल ने कहा कि ऑनलाइन सेवा प्रदाताओं, ई-खुदरा विक्रेताओं को आवश्यक सेवाएं और सामान वितरित करने की अनुमति है। सभी आवश्यक सेवाओं की दुकानें 24 घंटे खुली रह सकती हैं, ताकि लोगों की भीड़ न हो।

बता दें कि, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार भारत में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 649 तक पहुंच गई है। इनमें 593 सक्रिय मामलों सहित, 42 डिस्चार्ज कर दिया गया है, जबकि 13 लोगों की मृत्यु हो गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Delhi Govt to test all healthcare workers involved in the treatment of Coronavirus positive patients