ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली सरकार ने दिवाली में शराब से कमाए ₹525 करोड़, दो हफ्ते में बिकीं 3 करोड़ बोतलें

दिल्ली सरकार ने दिवाली में शराब से कमाए ₹525 करोड़, दो हफ्ते में बिकीं 3 करोड़ बोतलें

आधिकारिक आंकड़ों के हवाले से अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में दिवाली के त्योहार के दौरान शुक्रवार से रविवार तक लोगों ने करीब 121 करोड़ रुपये की 64 लाख शराब की बोतलें खरीदीं। पढ़ें यह रिपोर्ट...

दिल्ली सरकार ने दिवाली में शराब से कमाए ₹525 करोड़, दो हफ्ते में बिकीं 3 करोड़ बोतलें
Krishna Singhभाषा,नई दिल्लीTue, 14 Nov 2023 12:51 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में दिवाली के त्योहार के दौरान शुक्रवार से रविवार तक लोगों ने करीब 121 करोड़ रुपये की 64 लाख शराब की बोतलें खरीदीं। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, दिवाली से एक हफ्ते पहले एक करोड़ से अधिक शराब की बोतलों की बिक्री से सरकार को 234.15 करोड़ रुपये की कमाई हुई। आबकारी विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दिल्ली में होली और दिवाली जैसे त्योहारों के दौरान शराब की बिक्री बढ़ जाती है क्योंकि इसे ना केवल व्यक्तिगत उपभोग और भंडारण के लिए खरीदा जाता है वरन उपहार के रूप में देने के लिए भी खरीदा जाता है।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, दिवाली से पहले 17 दिनों में कुल बिक्री तीन करोड़ बोतलों से अधिक थी, जिससे 525.84 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ। अधिकारियों ने बताया कि दिवाली से ठीक पहले शराब की बिक्री में तेजी आई और बृहस्पतिवार, शुक्रवार और शनिवार को दुकानों पर क्रमश: 17.33 लाख, 18.89 लाख और 27.89 लाख बोतलें बिकीं। दिल्ली में दिवाली पर शराब की दुकानें बंद रहीं।

अधिकारियों ने बताया कि तीन दिनों में 64 लाख से अधिक बोतलों की इस संयुक्त बिक्री से दिल्ली सरकार को कुल 120.92 करोड़ रुपये की कमाई हुई। पिछले साल दिवाली से तीन दिन पहले शराब की बिक्री क्रमश: 13.46 लाख, 15 लाख और 19.39 लाख बोतलों की हुई थी।

2022 में दिवाली से पहले के 17 दिनों में दिल्ली में 2.11 करोड़ शराब की बोतलें बेची गईं। इस लिहाज से इस साल बेची गई बोतलों की संख्या करीब 42 प्रतिशत अधिक है। त्योहार की अवधि के दौरान औसत दैनिक बिक्री में वृद्धि 5.49 लाख बोतलें या 44 प्रतिशत थी। राष्ट्रीय राजधानी में 650 से अधिक शराब की दुकानें हैं जो दिल्ली सरकार के चार निगमों द्वारा संचालित हैं। आबकारी विभाग के अधिकारी ने कहा कि त्योहारी सीजन से पहले, निगमों को ऑर्डर पूरा करने और दिवाली बिक्री के लिए पर्याप्त स्टॉक रखने के लिए कहा गया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें