ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली में पद्मश्री अवॉर्डी BJP नेता को जान से मारने की धमकी, 'खालिस्तान समर्थक' ने वॉट्सऐप कॉल कर धमकाया

दिल्ली में पद्मश्री अवॉर्डी BJP नेता को जान से मारने की धमकी, 'खालिस्तान समर्थक' ने वॉट्सऐप कॉल कर धमकाया

भाजपा के पूर्व विधायक और पद्मश्री अवॉर्डी जितेंद्र सिंह शंटी को कथित तौर पर जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है। शंटी ने सोमवार को इस बारे में दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

दिल्ली में पद्मश्री अवॉर्डी BJP नेता को जान से मारने की धमकी, 'खालिस्तान समर्थक' ने वॉट्सऐप कॉल कर धमकाया
Praveen Sharmaनई दिल्ली। एएनआईTue, 30 Apr 2024 12:45 PM
ऐप पर पढ़ें

भाजपा के पूर्व विधायक जितेंद्र सिंह शंटी को कथित तौर पर जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है। शंटी ने खालिस्तानी चरमपंथियों से धमकी मिलने की बात कहते हुए सोमवार को दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। शंटी एक एनजीओ भी चलाते हैं।

पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित शंटी द्वारा दर्ज की गई शिकायत के अनुसार, उन्हें सोमवार को एक वॉट्सऐप कॉल आया था। फोन करने वाले ने पंजाबी में बात करते हुए उन्हें और उनके बेटे को जान से मारने की धमकी दी। शंटी ने सोमवार को शाहदरा के डीसीपी और विवेक विहार थाने के एसएचओ को लिखे एक पत्र में कहा, "मुझे वॉट्सऐप पर एक गुमनाम कॉल आई, जिसमें कॉल करने वाले ने मुझे और मेरे बेटे सरदार ज्योति जीत को जान से मारने की धमकी दी।"

शंटी ने कहा कि फोन करने वाले ने फोन काटने से पहले उनसे लगभग 35-40 सेकेंड तक बात की। उन्होंने दावा किया कि फोन करने वाले ने उन पर और उनके बेटे पर "खालिस्तान के खिलाफ बहुत कुछ" बोलने का आरोप लगाया है।

भाजपा के पूर्व विधायक शंटी ने बताया, "रविवार, दोपहर 12:59 बजे, मुझे एक वॉट्सऐप कॉल आई, जिसमें पंजाब में रहने वाले एक खालिस्तान समर्थक ने कहा, ''आप और आपका बेटा खालिस्तान के खिलाफ बहुत बोलते हैं। अब आपका आखिरी समय आ गया है।'' फोन काटने से पहले उस व्यक्ति ने लगभग 35 से 40 सेकेंड तक बात की।“

पुलिस को लिखे अपने पत्र में, शंटी ने कट्टरपंथी चरमपंथी संगठनों के निशाने पर होने और 'लगातार खतरे में' होने का दावा किया। उन्होंने अपने पत्र में उल्लेख किया, "हमें खालिस्तान समर्थक चरमपंथियों द्वारा हमला किए जाने की आशंका है।"

उन्होंने कहा कि उनका बेटा दिल्ली में भाजपा का प्रवक्ता है और टेलीविजन इंटरव्यू के साथ-साथ अन्य प्लैटफॉर्मों पर खालिस्तानी उग्रवाद के खिलाफ बोलता रहा है। उन्होंने कहा कि हाल ही में दिल्ली के कनॉट प्लेस में खालिस्तान के खिलाफ तख्ती पकड़ने का उनका वीडियो दुनियाभर में वायरल हो गया था।

शंटी, शहीद भगत सिंह सेवा दल और शहीद-ए-आजम भगत सिंह फाउंडेशन के संस्थापक हैं। वह 2008 में भाजपा में शामिल हुए और 2013 में शाहदरा से दिल्ली विधानसभा चुनाव जीते। शंटी को कोविड-19 महामारी के दौरान उनकी परोपकारी सेवाओं के लिए 2021 में पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। उन्होंने इस नागरिक सम्मान को अपने साथी अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं को समर्पित किया।