ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRDelhi Crime: दिल्ली में बंद घर से मिली दो बच्चों की लाश, कमरे में अचेत पड़ी थी मां; पिता ने रेलवे ट्रैक पर किया सुसाइड

Delhi Crime: दिल्ली में बंद घर से मिली दो बच्चों की लाश, कमरे में अचेत पड़ी थी मां; पिता ने रेलवे ट्रैक पर किया सुसाइड

दिल्ली के पांडव नगर इलाके में दो बच्चों की लाश एक बंद घर से मिलने पर सनसनी फैल गई। आरोपी ने महिला पर भी जानलेवा हमला किया, जिनकी हालत गंभीर है। घटना के बाद से बच्चों का पिता लापता था।

Delhi Crime: दिल्ली में बंद घर से मिली दो बच्चों की लाश, कमरे में अचेत पड़ी थी मां; पिता ने रेलवे ट्रैक पर किया सुसाइड
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 21 Apr 2024 06:15 AM
ऐप पर पढ़ें

यमुनापार के पांडव नगर स्थित शशि गार्डन इलाके में दो बच्चों की हत्या से सनसनी फैल गई। इनकी पहचान 15 वर्षीय कार्तिक चौरसिया और उसकी नौ वर्षीय बहन आस्था उर्फ गुन्नू के रूप में हुई। आरोपी ने महिला पर भी जानलेवा हमला किया, जिनकी हालत गंभीर है। घटना के बाद घर से बच्चों का पिता लापता था। वहीं, शुक्रवार को उसका शव आनंद विहार रेलवे स्टेशन के पास ट्रैक से बरामद हुआ था, लेकिन शिनाख्त नहीं हो सकी थी। शनिवार देर रात परिजनों ने उसकी पहचान की।

पुलिस के मुताबिक, आशंका है कि उसने अपने दोनों बच्चों की हत्या के बाद खुदकुशी कर ली। इससे पहले, शनिवार दोपहर पुलिस को सूचना मिली थी कि एक शख्स शुक्रवार से गायब है। उसका घर भी बाहर से लॉक है। पुलिस ने दरवाजा खोला तो अंदर बच्चों की लाश देखकर दंग रह गई। गंभीर रूप से घायल महिला बेसुध थी। पुलिसकर्मियों ने अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उनकी हालत नाजुक बनी हुई है। घटनास्थल से क्राइम और एफएसएल टीम ने साक्ष्य जुटाए हैं। पुलिस हत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी है।

दूसरे कमरे में अचेत पड़ी थी महिला 

बच्चों की मां शन्नू दूसरे कमरे में अचेत अवस्था में पड़ी थी। शरीर पर चोट के निशान थे। फौरन उसे नजदीक अस्पताल भेजा गया।

घर से बदबू आने पर अनहोनी की आशंका हुई

रिश्तेदार अमृतलाल ने बताया कि शुक्रवार सुबह से ही श्यामजी से संपर्क करने का प्रयास कर रहे थे। उनकी पत्नी शन्नू को भी फोन किया था, लेकिन उसका भी मोबाइल बंद था। इस बीच शाम को श्यामजी का छोटा भाई रामजी दूसरी मंजिल स्थित भाई के फ्लैट पर पहुंचा। वहां बाहर से ताला लगा हुआ था। इसके बाद वह वापस लौट गया, लेकिन जब दुर्गंध आने लगी तो उसे लगा कि कुछ गड़बड़ है। इसके बाद उसने पुलिस को सूचित किया।

बच्चों का कत्ल गला दबाकर किया

पांडव नगर के शशि गार्डन इलाके में नाबालिग बच्चों की हत्या गला दबाकर की गई है। पुलिस को गले पर निशान मिले हैं। वहीं, महिला के सिर पर किसी भारी वस्तु से हमला करने की आशंका है। पुलिस का मानना है कि हमले के बाद तीनों को मरा समझकर आरोपी घर के बाहर ताला लगाकर फरार हो गया। इस कारण हत्या की सुई भी उस पर ही घूम रही है।

पुलिस की करीब आधा दर्जन टीमें उसकी तलाश में दबिश दे रही हैं। सूत्रों ने बताया कि गुरुवार रात या शुक्रवार सुबह वारदात को अंजाम दिया गया है। डीसीपी अपूर्वा गुप्ता ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही हत्या का कारण पता चल पाएगा। शव एक से दो दिन पुराना लग रहा है। आरोपी के पकड़े जाने के बाद ही वारदात के कारणों का खुलासा हो पाएगा।

कक्षा नौ और छह में पढ़ाई करते थे दोनों

जानकारी के मुताबिक, श्यामजी मूलरूप से यूपी के प्रतापगढ़ स्थित गांव अहिना, पोस्ट मांधाता का रहने वाला है। परिवार के साथ पांडव नगर इलाके में शशि गार्डन स्थित गली नंबर-6 में रहता है। इसकी मयूर विहार फेज-1 के पास चाय की दुकान है। परिवार में पत्नी शन्नू चौरसिया के अलावा दो बच्चे कार्तिक और बेटी आस्था थे। बेटा कार्तिक सरकारी स्कूल में नौवीं और बेटी आस्था छठी कक्षा की छात्रा थी। श्यामजी के चार अन्य भाई पांडव नगर और शशि गार्डन में परिवारों के साथ रहते हैं।