ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRपोंटी चड्ढा के 400 करोड़ के फार्महाउस पर चला बुलडोजर, क्यों हुआ ऐक्शन?

पोंटी चड्ढा के 400 करोड़ के फार्महाउस पर चला बुलडोजर, क्यों हुआ ऐक्शन?

डीडीए (Delhi Development Authority) ने हाई प्रोफाइल शराब कारोबारी रहे दिवंगत पोंटी चड्ढा उर्फ गुरदीप सिंह के दक्षिणी दिल्ली के छतरपुर में करीब 10 एकड़ में फैले फार्महाउस को ध्वस्त कर दिया। 

पोंटी चड्ढा के 400 करोड़ के फार्महाउस पर चला बुलडोजर, क्यों हुआ ऐक्शन?
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 02 Mar 2024 09:49 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली विकास प्राधिकरण (Delhi Development Authority) ने हाई प्रोफाइल शराब कारोबारी दिवंगत पोंटी चड्ढा उर्फ गुरदीप सिंह का दक्षिणी दिल्ली के छतरपुर में करीब 10 एकड़ में फैले फार्महाउस को ध्वस्त कर दिया। इसकी कीमत लगभग 400 करोड़ रुपये होने का अनुमान है। डीडीए ने फार्म हाउस को शुक्रवार को ध्वस्त कर दिया। डीडीए की कार्रवाई लगातार दूसरे दिन भी जारी रही। डीडीए की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि शनिवार को फार्महाउस की बची हुई जमीन पर बनी मुख्य इमारत को तोड़ने की कवायद हुई। विस्तृत जानकारी का इंतजार है। 

सरकारी जमीन पर बना था फार्महाउस
दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने शनिवार को दिवंगत कारोबारी पोंटी चड्ढा के छतरपुर स्थित फार्महाउस पर बुलडोजर चला दिया। लगभग 10 एकड़ में फैले इस फार्म हाउस का बड़ा हिस्सा सरकारी जमीन पर बना हुआ था। इसकी कीमत लगभग 400 करोड़ रुपये बताई जा रही है। कार्रवाई के दौरान भारी मात्रा में पुलिसकर्मियों की तैनाती मौके पर रही। रविवार को भी इस फार्महाउस को तोड़ने का काम जारी रहेगा।

डीडीए की कार्रवाई
राजनिवास सूत्रों ने बताया कि दक्षिण दिल्ली के छतरपुर में लगभग 10 एकड़ में पूर्व शराब कारोबारी पोंटी चड्ढा उर्फ ​​गुरदीप सिंह का फार्महाउस बना हुआ था। इसका बड़ा हिस्सा सरकारी जमीन पर अतिक्रमण कर बनाया गया है। इसके चलते डीडीए अधिकारियों की तरफ से अतिक्रमण को हटाने के निर्देश दिए गये थे। शुक्रवार से ही इस फार्महाउस को तोड़ने का काम डीडीए ने शुरू किया और यह शनिवार को भी जारी रहा।

बड़ी संख्या में मौजूद रहे लोग
राजनिवास सूत्रों ने बताया कि अभी तक इस फार्महाउस से पांच एकड़ में मौजूद अतिक्रमण को हटाया जा चुका है। शनिवार को चल रही इस कार्रवाई के दौरान बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ मौजूद रही। वहीं सुरक्षा कारणों से काफी पुलिसकर्मी अतिक्रमण हटाने के दौरान तैनात रहे। डीडीए के अनुसार दिल्ली में लगातार सरकारी जमीन पर किए गए अतिक्रमण को डीडीए द्वारा हटाया जा रहा है। इसी कड़ी में यह कार्रवाई की गई है। 

भाई हरदीप की गोलीबारी में हो गई थी मौत
शनिवार को अंधेरा होने पर यह कार्रवाई रोक दी गई है, लेकिन रविवार को एक बार फिर अवैध निर्माण को गिराकर सरकारी जमीन को अतिक्रमण से मुक्त कराया जाएगा। सूत्रों ने बताया कि इसी फॉर्म हाउस में नवंबर 2012 में पोंटी चड्ढा एवं उसके भाई हरदीप की गोलीबारी में मौत हो गई थी। प्रॉपर्टी विवाद के चलते दोनों भाइयों द्वारा एक-दूसरे पर गोली चलाने की बात सामने आई थी।

कई जगहों से हटाया जा रहा अतिक्रमण
राजनिवास सूत्रों ने बताया कि दिल्ली में सरकारी भूमि को वापस पाने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इस कड़ी में उत्तर पूर्वी दिल्ली के गोकुलपुरी इलाके में 13 से 17 जनवरी के बीच इस तरह का अभियान चलाया गया था। वहां लगभग चार एकड़ भूमि पर अनधिकृत अतिक्रमण को ध्वस्त कर दिया गया था। इसमें बैंक्वेट हॉल, एक होटल और एक गोदाम सहित वाणिज्यिक शोरूम शामिल थे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें