ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRपति को फांसी पर लटका देख पत्नी ने दोस्त को किया फोन, फिर उठाया खौफनाक कदम, क्या वजह?

पति को फांसी पर लटका देख पत्नी ने दोस्त को किया फोन, फिर उठाया खौफनाक कदम, क्या वजह?

Delhi Crime News: उत्तर-पूर्वी दिल्ली के शास्त्री पार्क क्षेत्र में पति को फांसी पर लटका देखकर 25 वर्षीय महिला ने भी खौफनाक कदम उठा लिया। दोनों ही दिल्ली में काम करते थे। पढ़ें यह रिपोर्ट...

पति को फांसी पर लटका देख पत्नी ने दोस्त को किया फोन, फिर उठाया खौफनाक कदम, क्या वजह?
jharkhand girl suicide in delhi
Krishna Singhराजन शर्मा,नई दिल्लीSat, 22 Jun 2024 08:17 PM
ऐप पर पढ़ें

न्यू उस्मानपुर इलाके में पति को फंदे पर लटका देखकर पत्नी ने भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।महिला ने आत्महत्या से पहले अपने एक दोस्त को इसकी जानकारी दी। शनिवार सुबह शास्त्री पार्क स्थित दिल्ली जलबोर्ड की पाइप लाइन पर फंदे से एक महिला के शव को लटका हुआ देखकर राहगीर ने पुलिस को सूचना दी। शास्त्री पार्क थाना पुलिस मौके पर पहुंची। जहां शव को कब्जे में लेकर जब पुलिस ने जांच शुरू की तो महिला के दोस्त ने पति की आत्महत्या की बात पुलिस को बताई।

मौके से मिला सुसाइड़ नोट
पुलिस महिला के घर पहुंची, जहां पति का शव पंखे से लटका हुआ था और न्यू उस्मानपुर थाना पुलिस पहले ही मौके पर थी। पुलिस ने दोनों शव कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस को मौके से एक सुसाइड़ नोट भी मिला है। पुलिस उपायुक्त डॉ. जॉय टिर्की ने बताया कि 27 वर्षीय भास्कर देका और पत्नी 25 वर्षीय जुमी दास पिछले दो महीने से गली नंबर-2, साढ़े तीन पुश्ता, करतार नगर, न्यू उस्मानपुर में रह रहे थे। भास्कर और उसकी पत्नी चांदनी चौक स्थित ओमेक्स मॉल में नौकरी करते थे। 

पानी की पाइप लाइन से लटकी मिली लाश
भास्कर मॉल में सुरक्षाकर्मी था और जुमी दास हाउस कीपिंग का काम करती थी। दोनों मूलत: असम के रहने वाले थे। पुलिस उपायुक्त ने बताया कि शनिवार सुबह राहगीरों ने जुमी का शव पहला पुश्ता, यमुना खादर, शास्त्री पार्क में पानी की पाइप लाइन से लटके देखा। सुबह करीब 8.51 बजे मामले की सूचना शास्त्री पार्क थाना पुलिस को दी गई। पुलिस को मृतका के पास से उसका मोबाइल फोन बरामद हुआ।

कदम उठाने से पहले दोस्त को बताया
पुलिस की जुमी के ही फोन पर उसके दोस्त से बात हुई। उसने बताया कि रात को जुमी ने उसके पास कॉल कर बताया था कि उसके पति ने फांसी लगाकर जान दे दी है। वह भी आत्महत्या करने जा रही है। जानकारी जुटाने के बाद पुलिस की टीम करतार नगर जुमी के घर पहुंची तो वहां पहले से न्यू उस्मानपुर थाना पुलिस मौजूद थी। जुमी के मकान मालिक ने सुबह 11.15 बजे भास्कर को फंदे से लटके देखकर पीसीआर कॉल कर दी थी।

जुमी को दिल्ली लाने का फैसला हुआ गलत
पुलिस को प्राथमिक जांच के दौरान भास्कर के पास से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है। यह नोट असमिया भाषा में लिखा हुआ है। नोट में भास्कर ने लिखा है कि वह पत्नी जुमी से बहुत प्यार करता है।

आखिर ऐसा क्या हुआ कि जो आत्महत्या करनी पड़ी?
आखिर ऐसा क्या हुआ कि दंपती ने मौत को गले लगा लिया। मकान मालिक मुकेश कुमार ने बताया कि दोनों के बीच कभी कोई विवाद या झगड़ा नहीं होता था। सुबह के समय दोनों अपनी ड्यूटी पर चले जाते थे और शाम को वापस भी आ जाते थे। कई बार भास्कर की रात की ड्यूटी होती थी तो जुमी घर पर अकेली होती थी।

दोनों के मोबाइल की होगी जांच
पुलिस ने दोनों के मोबाइल को कब्जे में लेकर जांच के लिए भेजा है। पुलिस दोनों के साथ काम करने वाले लोगों से पूछताछ कर आत्महत्या की वजहों का पता लगाने का प्रयास कर रही है। इस बात का भी पता करने का प्रयास किया जा रहा है कि जुमी को कहीं कोई दफ्तर या बाहर परेशान तो नहीं कर रहा था।