ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRपहले नमस्ते करते और फिर लूट लेते सारा माल; दिल्ली पुलिस ने गिरोह के सरगना को दबोचा

पहले नमस्ते करते और फिर लूट लेते सारा माल; दिल्ली पुलिस ने गिरोह के सरगना को दबोचा

Delhi Crime News: दिल्ली पुलिस ने 'नमस्ते गिरोह' के सरगना को दबोचा है। आरोपी पांच वर्षों से फरार था। वह पुलिस की लिस्ट में वॉन्टेड मुजरिम था। उस पर मकोका के तहत भी आरोप हैं। पढ़ें यह रिपोर्ट...

पहले नमस्ते करते और फिर लूट लेते सारा माल; दिल्ली पुलिस ने गिरोह के सरगना को दबोचा
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 18 May 2024 09:55 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली पुलिस ने 'नमस्ते गिरोह' के सरगना को दबोचा है। बताया जाता है कि यह गिरोह दिल्ली में सुबह-सुबह लोगों को न‍िशाना बनाने से पहले उन्हें अनूठे तरीके से नमस्ते करता और फिर लूट और डकैती की वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाता था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि वारदात से पहले अनूठे तरीके से नमस्ते करने के तरीके के कारण ही इस गिरोह का नाम 'नमस्ते गैंग' पड़ गया था। गिरोह का सरगना जावेद बीते पांच वर्षों से अपनी गिरफ्तारी से बचता फिर रहा था। उस पर मकोका के तहत भी आरोप हैं।

दिल्ली पुलिस की लिस्ट में वॉन्टेड 
प्राप्त जानकारी के मुताबिक, शाहदरा जिला स्पेशल स्टाफ पुलिस ने शुक्रवार को 14 आपराधिक मामलों में शामिल बदमाश जावेद को गिरफ्तार कर लिया। उस पर मकोका समेत कई गंभीर आरोप थे। आरोपी जावेद दिल्ली पुलिस की लिस्ट में वॉन्टेड मुजरिम था। आरोपी कुख्यात नमस्ते गिरोह का सरगना है। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने सनसनीखेज जानकारियां दी हैं। 

15 भाई बहनों के परिवार से आता है आरोपी
आरोपी ने पुलिस को बताया कि 15 भाई बहनों का बड़ा परिवार होने के चलते अपनी जरूरतें पूरी करने के लिए वह गिरोह बनाकर लूट की वारदातों को अंजाम देता था। आरोपी पिछले पांच वर्षों से पुलिस से बचता फिर रहा था। पुलिस उपायुक्त सुरेंद्र चौधरी ने बताया कि एएसआई ललित दीक्षित को सूचना मिली थी कि आरोपी जावेद ओल्ड मुस्तफाबाद स्थित अपने घर आने वाला है। 

लक्जरी लाइफ जीने का शौकीन है जावेद
इसके बाद पुलिस ने जाल बिछाया। पुलिस ने सूचना पर कार्रवाई करते हुए मौके पर छापेमारी की और आरोपी जावेद को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने बताया कि उसका गिरोह खासकर सुबह के समय ही चोरी और लूट की वारदातों को अंजाम देता था। गिरोह के बदमाश पहले लोगों को नमस्ते करते थे। इसके बाद वे लूट और चोरी की वारदातों को अंजाम देकर फरार हो जाते थे। बताया जाता है कि जावेद लक्जरी लाइफ जीने का शौकीन है। वह पहले ही 14 आपराधिक वारदातों में शामिल रहा है।