ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRAAP नेता संजय सिंह को एक और मौका, कोर्ट ने सांसद पद की शपथ के लिए दूसरी बार संसद जाने की दी इजाजत

AAP नेता संजय सिंह को एक और मौका, कोर्ट ने सांसद पद की शपथ के लिए दूसरी बार संसद जाने की दी इजाजत

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने संजय सिंह को दूसरी बार पुलिस कस्टडी में संसद जाने और राज्यसभा सांसद के रूप में शपथ ग्रहण करने की इजाजत दे दी। कोर्ट ने उन्हें 8 या 9 फरवरी को संसद जाने की इजाजत दी है।

AAP नेता संजय सिंह को एक और मौका, कोर्ट ने सांसद पद की शपथ के लिए दूसरी बार संसद जाने की दी इजाजत
Praveen Sharmaनई दिल्ली। एएनआईTue, 06 Feb 2024 02:31 PM
ऐप पर पढ़ें

आम आदमी पार्टी (आप) नेता संजय सिंह के लिए राहत की खबर है। दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने मंगलवार को संजय सिंह को दूसरी बार पुलिस कस्टडी में संसद जाने और राज्यसभा सांसद के रूप में शपथ ग्रहण करने की इजाजत दे दी। कोर्ट ने उन्हें 8 या 9 फरवरी को संसद जाने की इजाजत दे दी है।

स्पेशल जज एमके नागपाल ने संजय सिंह के अर्जी स्वीकार करते हुए कहा कि 3 फरवरी, 2024 को भी इस अदालत ने जेल अधिकारियों को संसद सदस्य के रूप में शपथ दिलाने के लिए आरोपी को पुलिस कस्टडी में राज्यसभा में ले जाने का निर्देश दिया था। 

कोर्ट ने कहा कि हालांकि, यह बताया गया है कि उन्हें राज्यसभा में ले जाया गया था, लेकिन कुछ कारणों से उन्हें शपथ नहीं दिलाई जा सकी और इसलिए उन्हें 8 या 9 फरवरी, 2024 को फिर से राज्यसभा में ले जाने का निर्देश दिया गया है। 

कोर्ट ने निर्देश दिया कि आवेदक को जिस दिन भी संसद जाना हो, इन उपरोक्त तारीखों में से किसी एक पर शपथ दिलाने के लिए न्यायिक हिरासत और उचित सुरक्षा में राज्यसभा ले जाया जाएगा। इस संबंध में जेल अधीक्षक को राज्यसभा सचिवालय से बात करने का निर्देश दिया जाता है।

कोर्ट ने संजय सिंह के वकीलों रजत भारद्वाज और मोहम्मद इरशाद को संबंधित दस्तावेजों पर उनके साइन लेने के लिए तिहाड़ जेल जाकर संजय सिंह से मिलने की इजाजत दे दी है।

संजय सिंह के वकीलों ने अदालत को बताया कि कुछ दस्तावेजों पर आरोपी द्वारा साइन किए जाने की आवश्यकता है और इन्हें राज्यसभा के संबंधित कार्यालय में जमा करना होगा ताकि आवेदक को शपथ दिलाने के लिए बुलाया जा सके और फिर उसके बाद ही तारीख को अंतिम रूप दिया जाएगा।

बता दें कि, 'आप' नेता संजय सिंह 5 फरवरी, 2024 को राज्यसभा सांसद के रूप में शपथ नहीं ले सके थे क्योंकि राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ ने यह कहते हुए उन्हें शपथ लेने की इजाजत देने से इनकार कर दिया था कि उच्च सदन की कार्यवाही लिस्टेड कार्यक्रम द्वारा तय होती है जिसे बुलेटिन में अधिसूचित किया जाता है। संजय सिंह का शपथ ग्रहण सदन के कामकाज में सूचीबद्ध नहीं था और इस मामले पर राज्यसभा से कोई मैसेज कभी विचार के लिए नहीं आया।

संजय सिंह को प्रवर्तन निदेशालय ने दिल्ली के कथित शराब घोटाला से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया था। पिछले सप्ताह, दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले में संजय सिंह द्वारा दायर नियमित जमानत याचिका पर आदेश सुरक्षित रख लिया था। प्रवर्तन निदेशालय ने 4 अक्टूबर, 2023 को गिरफ्तार किया था। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें