ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRExcise policy case: सरेंडर से पहले केजरीवाल की जमानत याचिका, कोर्ट ने ED को भेजा नोटिस

Excise policy case: सरेंडर से पहले केजरीवाल की जमानत याचिका, कोर्ट ने ED को भेजा नोटिस

सीएम अरविंद केजरीवाल ने अंतरिम औऱ रेगुलर जमानत के लिए दिल्ली की कोर्ट में याचिका लगाई है। अदालत ने इसपर प्रवर्तन निदेशालय को नोटिस जारी किया है। इस मामले में अगली सुनवाई 1 जून को होगी।

Excise policy case: सरेंडर से पहले केजरीवाल की जमानत याचिका, कोर्ट ने ED को भेजा नोटिस
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 30 May 2024 03:25 PM
ऐप पर पढ़ें

Excise policy case: दिल्ली के चर्चित शराब घोटाले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अंतरिम और जमानत याचिका दिल्ली की एक अदालत में लगाई है। केजरीवाल की सुप्रीम कोर्ट से मिली अंतरिम जमानत 1 तारीख को खत्म हो रही है। जिसके बाद उन्हें जेल जाना होगा। लेकिन उससे पहले सीएम केजरीवाल ने अंतरिम औऱ रेगुलर जमानत के लिए दिल्ली की कोर्ट में याचिका लगाई है। अदालत ने इसपर प्रवर्तन निदेशालय को नोटिस जारी किया है। इस मामले में अगली सुनवाई 1 जून को होगी। अरविंद केजरीवाल ने अपने खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए जमानत की मांग अदालत से की थी। 

ED की तरफ से अदालत में पेश ASG एसवी राजू ने कहा कि उन्हें अभी ही कॉपी मिली है और उन्हें कम से कम दो दिनों की जरुरत है। वो पंजाब में चुनाव प्रचार कर रहे हैं। उनका स्वास्थ्य प्रचार करने से खराब नहीं हो रहा है। जोरदार चुनाव प्रचार चल रहा है। अंतिम समय में जमानत याचिका फाइल की जा रही है। उनका कृत्य किसी भी तरह से जमानत के योग्य नहीं है। विशेष जज कावेरी बावेजा ने दलीलें सुनने के बाद 1 जून को मामले को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अऱविंद केजरीवाल को ईडी ने शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में इसी साल मार्च के महीने में गिरफ्तार किया था। इसके बाद से सीएम केजरीवाल दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद हैं। सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें चुनाव प्रचार के लिए अंतरिम जमानत दी है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपनी एक याचिका में दिल्ली के कथित आबकारी नीति घोटाले में नियमित जमानत मांगी है और वहीं एक अन्य याचिका में सीएम ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देकर 7 दिनों की अंतरिम जमानत मांगी है। आपको बता दें कि इस मामले में यह पहला मौका है जब केजरीवाल ने जमानत की मांग की है। केजरीवाल ने अपनी गिरफ्तारी के बाद ईडी की कार्रवाई को अवैध बताते हुए गिरफ्तारी को अदालत में चुनौती दी थी।