Delhi cop raped 16 year old minor girl on Thurday - दिल्ली : काउंसलिंग कराने के बहाने सिपाही ने नाबालिग से किया रेप DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली : काउंसलिंग कराने के बहाने सिपाही ने नाबालिग से किया रेप

rape  symbolic image

उत्तर पूर्वी दिल्ली के न्यू उस्मानपुर में गुरुवार को काउंसलिंग कराने के बहाने एक सिपाही ने 16 साल की किशोर से जबरन दुष्कर्म किया। इसके बाद पीड़िता को कुछ रुपये देकर मुंह बंद रखने की धमकी देकर फरार हो गया। पीड़िता के घर पहुंचने पर परिजनों को मामले की जानकारी हुई तो वह थाने पहुंचे, जहां उनकी सुनवाई नहीं हुई। बाद में जब आसपास के लोगों को पता चला तो उन्होंने थाने का घेराव किया और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने लोगों को शांत कराया और पीड़िता के बयान पर आरोपी पुलिसकर्मी के खिलाफ दुष्कर्म व पोक्सो का केस दर्ज कर हिरासत में ले लिया। पुलिस आरोपी सिपाही से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार, 16 वर्षीय पीड़िता परिवार के साथ ब्रह्मपुरी इलाके में रहती है। उसके परिवार में माता-पिता समेत सदस्य हैं। वह दसवीं कक्षा की पढ़ाई बीच में छोड़ दी थी। चार दिन पहले इलाके का रहने वाला एक लड़का उसे बहला-फुसलाकर अपने साथ ले गया। परिजनों ने उसकी तलाश की, लेकिन उसके बारे में पता नहीं चला। इसके बाद मंगलवार रात पीड़िता खुद ही घर लौटकर आ गई। काफी विचार करने के बाद  परिजनों ने आरोपी युवक के खिलाफ थाने में शिकायत देने का मन बयान और न्यू उस्मानपुर थाने में पहुंचकर शिकायत दे दी।

आरोप है कि पूरी रात पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं और समझौता करने पर दबाव बनाया। इस बीच गुरुवार सुबह परिजन वापस घर आ गया। आरोप है कि सुबह करीब 9 बजे न्यू उस्मानपुर थाने का सिपाही पीड़िता के घर पहुंचा और काउंसलिंग कराने की बात कर अपने साथ बाइक पर साथ बैठाकर ले गया। थोड़ी देर बाद परिजन थाने पहुंचे तो पता चला कि उनकी बेटी थाने नहीं पहुंची है। उन्होंने सिपाही को कॉल किया गया तो उसका नंबर बंद था। इसके बाद परिजन घर आ गए। सुबह 10:30 बजे के करीब पीड़िता रोते हुए घर पहुंची और उसने परिजनों को आप बीती सुनाई। पीड़िता का कहना था कि आरोपी सिपाही उसे तीसरे पुश्ते के जंगल में लेकर गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। इसकी जानकारी आसपास के लोगों को हो गई। परिजन के साथ पड़ोसी थाने पहुंच गए।

थाने में सुनवाई नहीं होने पर आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई। लोगों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। शाम करीब 4 बजे वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के कहने पर पीड़िता का मेडिकल कराया गया। इसके बाद उसके बयान पर मामला दर्ज कर सिपाही को हिरासत में ले लिया गया। 

वर्दी पर किया विश्वास
परिजनों के अनुसार, आरोपी सिपाही उनके घर पहुंचा और अकेले अपने साथ काउंसलिंग के लिए ले जाने की बात कहीं। परिजनों ने पुलिस की वर्दी और सिपाही पर विश्वास कर बेटी को उसके साथ भेज दिया। उन्हें लगा कि उनकी बेटी को इंसाफ मिलेगा, लेकिन अभी पहले आरोपी को उसकी गुनाहों की सजा मिली ही नहीं थी कि आरोपी सिपाही ने दूसरी वारदात को अंजाम दे दिया। बेटी के साथ लगातार दूसरी घटना से परिवार पूरी तरह से टूट चुका है। परिवार को अब पुलिसकर्मियों से डर लगने लगा है।  

पीड़िता के बयान पर केस दर्ज कर लिया गया है, मामले की जांच की जा रही है। आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। - वेद प्रकाश सूर्या, डीसीपी, उत्तर पूर्वी दिल्ली।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Delhi cop raped 16 year old minor girl on Thurday