ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR'जो काम कई दिन पहले करना था वो अब किया', जलसंकट को लेकर कांग्रेस का आतिशी पर निशाना

'जो काम कई दिन पहले करना था वो अब किया', जलसंकट को लेकर कांग्रेस का आतिशी पर निशाना

देवेंद्र यादव ने कहा, 'आतिशी कह रही हैं कि उन्होंने पत्र लिखा है। अगर उन्हें पत्र लिखना ही था तो उन्हें 15 दिन पहले लिखना चाहिए था। इस सरकार को जल वितरण के लिए बेहतर योजना बनानी चाहिए थी।'

'जो काम कई दिन पहले करना था वो अब किया', जलसंकट को लेकर कांग्रेस का आतिशी पर निशाना
Sourabh JainPTI,नई दिल्लीWed, 19 Jun 2024 02:58 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष देवेंद्र यादव ने राष्ट्रीय राजधानी में जल संकट को लेकर दिल्ली की मंत्री आतिशी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखे जाने को लेकर उन पर निशाना साधा है। यादव का है कि यह काम तो उन्हें कई दिन पहले कर लेना चाहिए था, साथ ही सरकार को जल वितरण के लिए बेहतर योजना बनानी चाहिए थी। साथ ही शीला दीक्षित की सरकार को याद करते हुए यादव ने कहा कि उस समय हम दो महीने पहले ही इस बारे में तैयारी कर लिया करते थे। 

देवेंद्र यादव ने पीटीआई से बात करते हुए कहा, 'देखिए मुझे दुख है इस बात का कि आज आतिशी जी कह रही हैं कि हम चिट्ठी लिख रहे हैं प्रधानमंत्री को। अगर चिट्ठी लिखनी ही थी तो ये आज से 15 दिन पहले लिखी जानी चाहिए थी। इस सरकार को जागना चाहिए था, एक अच्छी योजना बनानी चाहिए थी और यह व्यवस्था देखनी चाहिए थी कि कहां से पानी कितना आएगा, उसका डिस्ट्रीब्यूशन कैसे होगा। हमारे पास कितने टैंकर्स हैं, क्या और व्यवस्थाएं की जा सकती है या नहीं। हमें याद है, माननीय शीला जी की सरकार हुआ करती थी। हम दो महीने पहले एक प्रॉपर प्लान तैयार किया करते थे कि यहां-यहां पर पानी की कमी रहेगी और इस-इस तरह से पानी की व्यवस्था की जाएगी।'

इससे पहले दिल्ली की मंत्री आतिशी ने बुधवार को कहा कि उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी में व्याप्त जल संकट के संबंध में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखा है और अगर संकट का समाधान जल्द ही नहीं किया गया तो वह 21 जून से अनिश्चितकालीन अनशन करेंगी। आतिशी ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि हरियाणा राजधानी के हिस्से का पानी नहीं छोड़ रहा है इसलिए दिल्ली जल संकट से जूझ रही है ।

आतिशी ने कहा, 'कल हरियाणा ने दिल्ली के लिए 613 MGD के बजाए 513 MGD पानी छोड़ा। एक MGD पानी 28,500 लोगों के लिए है। इसका अर्थ है कि 28 लाख से अधिक लोगों के लिए पानी नहीं छोड़ा गया।' आतिशी ने कहा कि लोग एक ओर भीषण गर्मी का सामना कर रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर उन्हें जल संकट का भी सामना करना पड रहा है।

उन्होंने कहा, 'मैंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जल संकट के संबंध में पत्र लिखा है और उनसे इस मुद्दे को हल करने का अनुरोध किया है। अगर दो दिन में समस्या हल नहीं हुई तो मैं 21 जून से अनिश्चितकालीन अनशन करूंगी।' आतिशी ने कहा कि उन्होंने इस मुद्दे को सुलझाने के लिए हरियाणा सरकार को कई पत्र लिखे हैं।