DA Image
30 अक्तूबर, 2020|1:52|IST

अगली स्टोरी

केजरीवाल ने कंपनियों से की कोरोना वायरस संक्रमित लोगों के लिए की पेड लीव की सिफारिश

delhi cm arvind kejriwal addresses a press conference

कोरोना वायरस को लेकर राजधानी दिल्ली में फैले भय और भ्रम के चलते दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल केजरीवाल ने रविवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर लोगों से परेशान नहीं होने की अपील की है। उन्होंने कहा कि सरकार कोरोना वायरस से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है और लोगों को घबराने की आवश्यकता नहीं है।

रविवार को स्पेशल टास्क फोर्स के सदस्यों के साथ बैठक के बाद केजरीवाल ने बताया कि लोगों को मास्क और सैनिटाइजर को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं है। दिल्ली में अभी तक कुल 3 केस ही सामने आए हैं और इन सब की विदेश में यात्रा करने का इतिहास है।

बसों-मेट्रो को रोज संक्रमण मुक्त किया जाए 

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बताया कि उनकी सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए एहतियातन कदम उठाते हुए डीटीसी एवं कलस्टर बसों, मेट्रो और अस्पतालों को नियमित आधार पर संक्रमण मुक्त करने के आदेश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी तक दिल्ली के जिन तीन मरीजों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है उनके संपर्क में आए 337 लोगों की भी जांच की गई है और इन सभी को अगले 14 दिनों तक आइसोलेशन में रहने के लिए कहा गया है जिससे वायरस को फैलने से रोका जा सके। सीएम ने कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस के 3 पॉजिटिव केस और 1 संदिग्ध केस है। 1 रोगी 105 लोगों के संपर्क में आया, दूसरा रोगी 168 लोगों के संपर्क में आया और तीसरा रोगी 64 लोगों के संपर्क में आया। जिन-जिन लोगों के संपर्क में ये पिछले 14 दिनों में आए उनको हम आइसोलेट कर रहे हैं, जांच के लिए उनके नमूने लिए गए हैं।

सैलरी के साथ दी जाए छुट्टी 

उन्होंने कहा कि जिन लोगों को 14 दिन तक आइसोलेशन में रखा गया है वह जहां काम करते हैं उनके नियोक्ताओं से अपील है कि उन्हें पेड लीव (सैलरी के साथ छुट्टी) दी जाए जिससे कि उनका आर्थिक नुकसान न हो।

सैनेटाइजर और मांस के लिए पैनिक ना फैलाएं

उन्होंने अपील की है कि सैनेटाइजर और मांस के लिए पैनिक ना फैलाएं N95 मास्क की जरूरत उन्हें ही है जो स्वास्थ्य कर्मी हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि सभी सार्वजनिक वाहनों जैसे मेट्रो और बसों को रोज सैनिटाइज करने के लिए भी ऑर्डर जारी कर दिया गया है। 

सब को लैब जाने की जरूरत नहीं

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब कोरोना वायरस की जांच के लिए सब को लैब जाने की जरूरत नहीं है। दिल्ली के 25 अस्पतालों में जांच के लिए सैंपल लेने की व्यवस्था की गई है, लेकिन लोगों से अपील है कि वह सिर्फ सर्दी जुकाम के लिए ही अस्पताल में न पहुंचे। उन्होंने बताया कि अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड भी बनाए गए हैं, जिसमें कुल 168 बेड ऐसे मरीजों के लिए रखे गए।

एक लाख 40 हजार 603 लोगों की हुई थर्मल स्क्रीनिंग

केजरीवाल ने कहा कि अब तक विदेश से हवाई यात्रा कर एयरपोर्ट पर आए एक लाख 40 हजार 603 लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई है और अगले 14 दिनों तक उनसे रोज दिल्ली सरकार की टीम संपर्क में रहेगी और उन्हें दिन में दो बार फोन करके उनकी तबीयत के बारे में पूछा जा रहा है। केजरीवाल ने कहा कि अगर कोई ऐसा व्यक्ति जो विदेश से आया है, मगर उसने जांच नहीं कराई है अगर दिल्ली वालों की जानकारी में कोई ऐसा है तो वह दिल्ली सरकार को इसकी सूचना दे सकता है। इसके लिए वह 011 22307145, 22300012, 22300036 नंबर पर संपर्क कर सकता है। इस हेल्पलाइन नंबर पर 24 घंटे सुविधा उपलब्ध है। 

कोरोना के 3 मरीजों के संपर्क में आए सभी लोगों की हो रही जांच: केजरीवाल

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Delhi CM Arvind Kejriwal recommends companies paid leave for coronavirus infected people