ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRसिर्फ राजनीति करते हैं ये लोग, इन्हें दिल्ली के लोगों से मतलब नहीं, भाजपा ने पानी के मुद्दे पर आप को घेरा

सिर्फ राजनीति करते हैं ये लोग, इन्हें दिल्ली के लोगों से मतलब नहीं, भाजपा ने पानी के मुद्दे पर आप को घेरा

दिल्ली में पानी को लेकर राजनीति तेज हो गई है। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष सचदेवा ने कहा कि जब अप्रैल में ही पता चल गया था कि इस बार बहुत गर्मी पड़ने वाला है तो सरकार ने समर एक्शन प्लान क्यों नहीं बनाया।

सिर्फ राजनीति करते हैं ये लोग, इन्हें दिल्ली के लोगों से मतलब नहीं, भाजपा ने पानी के मुद्दे पर आप को घेरा
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 29 May 2024 12:06 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में वाटर सप्लाई को लेकर राजनीति तेज हो गई है। दिल्ली की आप सरकार जहां हरियाणा पर दिल्ली के हिस्से की पानी नहीं देने का आरोप लगा रही है, वहीं दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा है कि जब अप्रैल में ही पता चल गया था कि इस बार मौसम बहुत गर्म होने वाला है तो दिल्ली सरकार ने समर एक्शन प्लान पर काम क्यों नहीं किया। हर बार मार्च में ही समर एक्शन प्लान बनाया जाता था जो इस बार अब तक नहीं बना।

दरअसल, दिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने एक बार फिर हरियाणा पर दिल्ली के हिस्से का पानी नहीं देने का आरोप लगाया है। यमुना में कम पानी छोड़ने के कारण दिल्ली के कई क्षेत्रों में पानी की गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है। इससे निपटने के लिए कुछ क्षेत्रों में दो बार की बजाए अब एक बार  पानी सप्लाई करने का निर्णय लिया गया है। साथ ही पानी बर्बाद करने वालों पर जुर्माना करने की भी चेतावनी दी गई है।

दिल्ली के जल मंत्री के इस निर्देश पर दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने सवाल उठाते हुए कहा कि जब अप्रैल में ही पता चल गया था कि इस बार मौसम बहुत गर्म होने वाला है। वह दिल्ली सरकार से पूछना चाहते हैं कि उन्होंने समर एक्शन प्लान पर काम क्यों नहीं किया। हर बार मार्च में समर एक्शन प्लान पर काम होता था जो इस बार अभी तक नहीं हुआ। सचदेवा ने कहा कि पूरे अप्रैल और मई तक आप सरकार केवल राजनीतिक नाटक में लगी रही। उन्होंने अपना सारा समय भ्रष्टाचार छिपाने में बर्बाद कर दिया।  

सचदेवा ने कहा कि आप सरकार ने दिल्ली वालों के बारे में जरा भी नहीं सोचा। दिल्ली में पानी की कमी नहीं हो, इसके लिए लिए पहले से क्यों नहीं सोचा गया। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के सभी मंत्री सिर्फ पार्टी  के लिए काम करते हैं, उन्हें दिल्ली के लोगों से कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि पंजाब में तो आप की सरकार है। आप ने वहां से पानी क्यों नहीं लिया। वहां से तो पानी ले सकते थे। हिमाचल से पानी ले सकते थे। कहा कि पूरे दिल्ली में पानी के लिए हाहाकार मचा है और इसके लिए सिर्फ दिल्ली सरकार जिम्मेदार है। उन्होंने आरोप लगाया कि दिल्ली को पानी देना, बिजली देना आप सरकार की प्राथमिकता होनी चाहिए, लेकिन उन्होंने सिर्फ कोरे वादे किए। 

अतिशी ने कहा था कि यमुना में जल स्तर को बनाए रखने की जिम्मेदारी हरियाणा पर है। कम पानी छोड़े जाने के कारण वजीराबाद में जल स्तर नीचे गिर गया है, जिससे जल आपूर्ति बाधित हो रही है। एक मई से ही हरियाणा ने दिल्ली को इसके हिस्से का पानी देना कम कर दिया। दिल्ली के डब्ल्यूटीपी को पर्याप्त पानी नहीं मिलने से 30 से 35 मिलियन गैलन प्रतिदिन (एमजीडी) कम पानी उपलब्ध हो रहा है। इस वजह से पिछले लगभग एक सप्ताह से दिल्ली के कई क्षेत्र में पानी की गंभीर समस्या बनी हुई है।