ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRमार्च के पहले हफ्ते तक चलेगा विधानसभा सत्र, कब पेश होगा दिल्ली बजट? वित्त मंत्री आतिशी ने बताई देरी की वजह

मार्च के पहले हफ्ते तक चलेगा विधानसभा सत्र, कब पेश होगा दिल्ली बजट? वित्त मंत्री आतिशी ने बताई देरी की वजह

दिल्ली विधानसभा के सत्र को मार्च के पहले हफ्ते के लिए बढ़ा दिया गया है। वित्त मंत्री आतिशी की ओर से इस संबंध में सदन में प्रस्ताव पेश किया गया। हालांकि बजट पेश करने की तारीख अभी तय नहीं है।

मार्च के पहले हफ्ते तक चलेगा विधानसभा सत्र, कब पेश होगा दिल्ली बजट? वित्त मंत्री आतिशी ने बताई देरी की वजह
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 16 Feb 2024 05:57 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली का बजट प्रस्तुत करने की तारीख अभी तय नहीं है। इसमें हो रही देरी को देखते हुए दिल्ली विधानसभा के बजट सत्र को मार्च के पहले सप्ताह तक के लिए बढ़ा दिया गया है। वित्त मंत्री आतिशी की ओर से इस आशय का प्रस्ताव गुरुवार को सदन में रखा गया था। विधानसभा में उप राज्यपाल के अभिभाषण के बाद दोबारा सत्र शुरू होने पर विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने वित्त मंत्री से कहा कि अभी बजट की तारीख तय नहीं हुई है। बजट कब रखा जाना है, इसकी जानकारी सदन के साथ साझा की जाए। 

इस पर वित्त मंत्री आतिशी ने सदन को बताया कि किन्हीं कारणों से बजट को अंतिम रूप देने में थोड़ी देरी हुई है। कल ही उप राज्यपाल की मंजूरी बजट पर मिली है। आज बजट को गृह मंत्रालय के पास भेजा जाएगा। गृह मंत्रालय से मंजूरी और राष्ट्रपति की सहमति मिलने में कम से कम दस से पंद्रह दिन का समय लग जाता है। ऐसे में 25 तारीख से पहले बजट पेश नहीं हो पाएगा। इस पर भाजपा सदस्यों की ओर से सवाल किए गए, जिस पर वित्त मंत्री ने कहा कि यह हमारी देरी है, हम कोई आरोप नहीं लगा रहे हैं।

सभी सदस्यों की सहमति से प्रस्ताव पारित 

आतिशी ने कहा कि बजट सत्र को मार्च के पहले सप्ताह तक के लिए बढ़ा दिया जाए, क्योंकि बजट फरवरी के अंतिम सप्ताह या मार्च के पहले सप्ताह में ही पेश किया जा सकेगा और फिर उस पर चर्चा भी होगी। विधानसभा अध्यक्ष ने सभी सदस्यों की सहमति से सत्र का समय बढ़ाने के प्रस्ताव को पारित कर दिया।

लगातार दूसरी बार बजट लेट

लगातार दूसरे साल दिल्ली सरकार बजट तय तारीख पर विधानसभा के सामने पेश नहीं कर पा रही है। केजरीवाल सरकार ने पिछले साल केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा उठाए गए सवालों पर उसे अंधेरे में रखने के लिए नौकरशाही को दोषी ठहराया था। इस वजह से बजट एक दिन की देरी से पेश हुआ था। हालांकि इस बार कोई कारण नहीं बताया गया है। गुरुवार को आतिशी ने सदन में कहा, 'मेरा अनुमान है कि बजट 25 फरवरी से पहले पेश नहीं किया जाएगा।'

दरअसल, आप सरकार ने अपना 10वां बजट पेश करने के लिए गुरुवार से छह दिवसीय बजट सत्र बुलाया था। हालांकि पहले बजट पेश करने के लिए किसी विशेष तारीख की घोषणा नहीं की गई थी, लेकिन सरकारी सूत्रों ने बताया था कि आउटकम बजट और आर्थिक सर्वे 16 फरवरी को पेश किया जाएगा, जबकि बजट 19 फरवरी को पेश किए जाने की संभावना थी। अब इसे मार्च के पहले हफ्ते या फरवरी के आखिर में पेश किया जाएगा।

11 फरवरी को कैबिनेट से पास हुआ था

दिल्ली सरकार के मुताबिक, 11 फरवरी को बजट कैबिनेट से पास हुआ था। इसके बाद 13 तारीख को इसे उप राज्यपाल के पास भेजा गया, जहां से 14 तारीख को स्वीकृत होकर वापस सरकार के पास बजट आ गया। वित्त मंत्री ने कहा कि उप राज्यपाल वीके सक्सेना की ओर से इसमें देरी नहीं हुई है। दूसरी ओर, विधानसभा में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वित्तीय समितियों के निर्वाचन को लेकर प्रस्ताव रखा, जिसे ध्वनिमत से पारित कर दिया गया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें