ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली में बेहद गंभीर श्रेणी में AQI, मानकों से साढ़े तीन गुना ज्यादा, ये 11 हॉट स्पाट दे रहे टेंशन

दिल्ली में बेहद गंभीर श्रेणी में AQI, मानकों से साढ़े तीन गुना ज्यादा, ये 11 हॉट स्पाट दे रहे टेंशन

Delhi Pollution Crisis: दिल्ली में एक्यआई एकबार फिर गंभीर श्रेणी में पहुंच गया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 11 हॉट स्पाट पर प्रदूषण का स्तर औसत से ज्यादा दर्ज किया गया है। पढ़ें यह रिपोर्ट...

दिल्ली में बेहद गंभीर श्रेणी में AQI, मानकों से साढ़े तीन गुना ज्यादा, ये 11 हॉट स्पाट दे रहे टेंशन
Krishna Singhहिंदुस्तान,नई दिल्लीSun, 26 Nov 2023 06:14 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रदूषण के हॉट स्पाट राजधानी दिल्ली की मुसीबत बढ़ा रहे हैं। पहले से चिह्नित तेरह में से 11 हॉट स्पाट पर रविवार को प्रदूषण का स्तर दिल्ली के औसत स्तर से ज्यादा है। इनमें भी वजीरपुर जैसे हॉट स्पाट का वायु गुणवत्ता सूचकांक 464 के अंक पर यानी अत्यंत गंभीर श्रेणी तक पहुंचा हुआ है। राजधानी दिल्ली में प्रदूषण की रोकथाम के लिए लगभग पांच साल पहले तेरह ऐसी जगहों की पहचान की गई थी, जहां पर प्रदूषण का स्तर आमतौर पर शहर के औसत स्तर से ज्यादा रहता है। यहां से पैदा होने वाले प्रदूषण के चलते दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ता है। 

प्रदूषण के हॉट स्पाट
वजीरपुर---464
जहांगीरपुरी---457
विवेक विहार---455
पंजाबी बाग—444
अशोक विहार---446
रोहिणी---432
बवाना---438
मुंडका---440
आनंद विहार---438
आरके पुरम---403
ओखला---413
द्वारका---392
नरेला---382

नहीं मिली खास कामयाबी
इन जगहों पर प्रदूषण की रोकथाम के लिए हर साल ही अलग से कार्ययोजना तैयार की जाती है ताकि, यहां पर प्रदूषण की रोकथाम की जा सके। इस बार भी जाड़े की शुरुआत में इन तेरह जगहों के लिए अलग से कार्ययोजना तैयार करके प्रदूषण की रोकथाम का प्रयास शुरू किया गया था। लेकिन, अभी प्रदूषण का स्तर बताता है कि इन तेरह जगहों पर प्रदूषण की रोकथाम में खास कामयाबी नहीं मिली है। 

इन इलाकों में अत्यंत गंभीर श्रेणी में प्रदूषण
इन 11 स्थलों पर अभी भी शहर के अन्य हिस्सों की तुलना में प्रदूषण का स्तर सबसे ज्यादा है। हॉट स्पाट वाली जगहों पर प्रदूषण का स्तर इस तरह से भी समझा जा सकता है कि दिल्ली में रविवार को प्रदूषण का औसत स्तर जहां बेहद खराब श्रेणी में है। वहीं, जहांगीरपुरी, विवेक विहार और वजीरपुर जैसी हॉट स्पाट वाली जगहों पर प्रदूषण का स्तर इससे दो श्रेणी ऊपर अत्यंत गंभीर श्रेणी में पहुंच गया है। इन तीनों ही जगहों का वायु गुणवत्ता सूचकांक रविवार की शाम चार बजे 450 के अंक से ऊपर रिकार्ड किया गया है।

मानकों से साढ़े तीन गुना ज्यादा प्रदूषण
दिल्ली में प्रदूषण का स्तर मानकों से साढ़े तीन गुना ज्यादा हो गया है। शाम चार बजे दिल्ली-NCR की हवा में पीएम 10 का औसत स्तर 366 और पीएम 2.5 का औसत स्तर 216 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर पर रहा जो मानकों से साढ़े तीन गुने से भी ज्यादा है। दिल्ली के ज्यादातर इलाकों में स्मॉग की चादर छाई है जिससे दृश्यता प्रभावित हुई है। सुबह के सात बजे सफदरजंग में दृश्यता का स्तर 500 मीटर दर्ज किया गया। शाम चार बजे यह 1500 मीटर तक पहुंची जो सामान्य तौर पर दो हजार मीटर से ज्यादा होनी चाहिए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें