ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRDelhi Alipur Fire : अलीपुर अग्निकांड में मृतकों का आंकड़ा बढ़ा, अब तक 11 लोगों की मौत, 4 घायल

Delhi Alipur Fire : अलीपुर अग्निकांड में मृतकों का आंकड़ा बढ़ा, अब तक 11 लोगों की मौत, 4 घायल

Delhi Alipur Fire : दिल्ली में नरेला के पास अलीपुर इलाके में गुरुवार शाम पेंट और केमिकल गोदामों में हुए अग्निकांड में अब मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 11 पर पहुंच गया है। वहीं चार लोग गंभीर रूप से घायल हैं।

Delhi Alipur Fire : अलीपुर अग्निकांड में मृतकों का आंकड़ा बढ़ा, अब तक 11 लोगों की मौत, 4 घायल
Praveen Sharmaनई दिल्ली। हिन्दुस्तान एएनआईFri, 16 Feb 2024 09:46 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में नरेला के पास अलीपुर के नेहरू एंक्लेव इलाके में गुरुवार शाम पेंट फैक्ट्री में हुए भीषण अग्निकांड में अब मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 11 पर पहुंच गया है। वहीं, एक पुलिस कॉन्स्टेबल सहित चार लोग गंभीर रूप से घायल हैं। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आग लगने की सूचना के बाद मौके पर पहुंचीं दमकल की 30 से ज्यादा गाड़ियों ने कई घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग बुझाने और राहत कार्यों के लिए एनडीआरएफ को भी मौके पर बुलाया गया था। पुलिस इस संबंध में अलीपुर थाना में मामला दर्ज कर घटना की जांच कर रही है।

फायर डिपार्टमेंट ने शुक्रवार सुबह इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि गुरुवार शाम दिल्ली के अलीपुर में दो पेंट और केमिकल गोदामों में आग लगने से 11 लोगों की मौत हो गई और 4 घायल हो गए। मृतकों को बाबू जगजीवन राम अस्पताल ले जाया गया है और चारों घायलों का राजा हरिश्चंद्र अस्पताल में इलाज चल रहा है। मृतकों की अभी तक शिनाख्त नहीं हो पाई है। चारों घायलों की पहचान ज्योति (42), दिव्या (20), मोहित सोलंकी (34) और दिल्ली पुलिस के कॉन्स्टेबल करमबीर के रूप में हुई है। 

दिल्ली अग्निशमन सेवा के निदेशक अतुल गर्ग के अनुसार कि 2 और लोगों के फंसे होने की आशंका है। सर्च ऑपरेशन लगातार जारी है, आग लगने का सही कारण अभी तक पता नहीं चल सका है। 

फायर स्टेशन अधिकारी सत्यवान सिंह ने कहा कि गुरुवार शाम करीब 5 बजे आग लगने की सूचना मिली। यहां केमिकिल विस्फोट हो रहे थे। एनडीआरएफ ने पुष्टि की है कि 11 लोगों की मौत हो गई है और चार अन्य घायल हो गए हैं। आग बुझाने के काम में कुल 30 फायर टेंडर लगे हुए थे। 

वहीं, आग की चपेट में आई अलीपुर की पेंट फैक्ट्री में काम करने वाले एक मजदूर के रिश्तेदार सुनील ठाकुर ने कहा कि मैं यहां अपने भाई अनिल ठाकुर को ढूंढने आया हूं। कुछ पता नहीं लग रहा है। यह एक पेंट फैक्ट्री थी। कोई जानकारी नहीं मिल रही है उसका फोन शाम 5 बजे से बंद है।

अलीपुर अग्निकांड के एक प्रत्यक्षदर्शी सुमित भारद्वाज ने बताया कि घटना शाम करीब 5:30 बजे हुई। एक धमाके की आवाज सुनकर सभी लोग यहां इकट्ठा हो गए। हमने आग बुझाने की बहुत कोशिश की। दमकल की करीब 7-8 गाड़ियां भी यहां पहुंच गईं और आग बुझाने का काम शुरू किया। 

सोनीपत का रहने वाला है फैक्ट्री मालिक

अलीपुर में आग की चपेट में आई पेंट फैक्ट्री का संचालन सोनीपत के रहने वाले अखिल जैन पुत्र अशोक जैन द्वारा किया जा रहा था। आग की सूचना मिलने पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची और देखा कि आग पड़ोस के 'नशा मुक्ति केंद्र' समेत कई अन्य इमारतों में फैल गई है, जहां 4-5 लोग आग में फंसे हुए हैं। अलीपुर थाने के कॉन्स्टेबल करमवीर अपनी जान जोखिम में डालकर 'नशा मुक्ति केंद्र' की छत पर पहुंचे और वहां फंसे हुए लोगों को बाहर निकालने में कामयाब रहे। इस घटना में कॉन्स्टेबल करमवीर भी झुलस गए और कई जगह चोटें आईं और अब उन्हें सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, पास की बिल्डिंग से 3 घायलों को एलएनजेपी अस्पताल रेफर किया गया है।

मृतकों में 10 पुरुष और 1 महिला शामिल

एनडीआरएफ ने दमकल विभाग के साथ मौके पर पहुंचकर आग की चपेट में आई इमारतों में सर्च ऑपरेशन चलाया। पेंट फैक्ट्री से कुल 11 जले हुए शव बरामद किए गए हैं, जिनमें 10 पुरुष और 1 महिला शामिल हैं। शवों को बाबू जगजीवन राम अस्पताल में सुरक्षित रखा दिया है और मृतकों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है। इस संबंध में थाना अलीपुर में मामला दर्ज कर आगे की जांच की जा रही है.

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें