ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली में नए साल का जश्न लेकिन एक टेंशन, AQI 400 पार; इस वजह से और खराब हो सकती है हवा

दिल्ली में नए साल का जश्न लेकिन एक टेंशन, AQI 400 पार; इस वजह से और खराब हो सकती है हवा

Delhi AQI: दिल्ली में नए साल के मौके पर एयर क्वालिटी और खराब हो सकती है। इसके पीछे की वजह जश्न के दौरान पटाखे हैं। ऐसे में अगले कुछ दिन वायु गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में बनी रहेगी।

दिल्ली में नए साल का जश्न लेकिन एक टेंशन, AQI 400 पार; इस वजह से और खराब हो सकती है हवा
Abhishek Mishraलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 31 Dec 2023 02:03 PM
ऐप पर पढ़ें

Delhi Air Quality: देश की राजधानी दिल्ली में नए साल पर जमकर जश्न की तैयारियां हो रही हैं। पुलिस और प्रशासन अलर्ट है। निगरानी और गश्ती बढ़ा दी गई है। नए साल के जश्न के बीच AQI टेंशन बढ़ा सकती है। बीते कई दिनों से राजधानी में एयर क्वालिटी गंभीर श्रेणी में रही है। शनिवार देर शाम AQI 400 से अधिक दर्ज किया गया। वहीं आज औसत एयर क्वालिटी सूचकांक 430 दर्ज किया गया है। 

नए साल के जश्न में पटाखों के चलते वायु गुणवत्ता और बदतर हो सकती है। मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक, अगर पटाखे जलाए जाते हैं तो AQI और गंभीर श्रेणी में पहुंच जाएगा। पूर्वानुमानों में चेतावनी दी गई है कि कम से कम तीन और वायु गुणवत्ता खराब रहने की संभावना है।

दिल्ली में 24 घंटे का औसत AQI शनिवार को दोपहर के आसपास गंभीर श्रेणी 401 तक पहुंच गया। शनिवार शाम 4 बजे तक गिरकर 400 ("बहुत खराब" श्रेणी में) हो गया। वहीं आज 31 दिसंबर की दोपहर 1 बजे AQI गंभीर श्रेणी में 439 दर्ज किया गया है। 

आईएमडी के एक अधिकारी ने कहा कि हवा की गुणवत्ता में गिरावट पिछले दो दिनों में शहर में दिन के समय कम तापमान के कारण हुई है। “कम तापमान और हवा की गति कम होने से वातावरण में स्थिरता आ जाती है। दिन के समय भी सूरज की रोशनी न के बराबर आने के कारण हवा की गति कम रही, जिससे पॉल्यूटेंट्स का फैलाव नहीं हुआ।''

मौसम विभाग के पूर्वानुमानों के मुताबिक अगले कुछ दिन AQI में सुधार होने के आसार नहीं हैं। अर्ली वार्निंग सिस्टम के मुताबिक "31 दिसंबर से 2 जनवरी तक दिल्ली की वायु गुणवत्ता 'बहुत खराब' श्रेणी में रहने की संभावना है। 31 दिसंबर को जलाए जाने वाले पटाखों से उत्सर्जन से वायु की गुणवत्ता खराब हो सकती है।" 

सीपीसीबी 0-50 के बीच एक्यूआई को "अच्छा", 51 और 100 के बीच "संतोषजनक", 101 और 200 के बीच "मध्यम", 201 और 300 के बीच "खराब", 301 और 400 के बीच "बहुत खराब" के रूप में वर्गीकृत करता है। और 400 से अधिक AQI को "गंभीर" मन जाता है। 

IMD के मुताबिक, एयर पॉल्यूशन में बढ़ोत्तरी के बावजूद, पिछले पांच दिनों से दिल्ली में छाया हुआ घना कोहरा कम हो रहा है। शनिवार को शहर में "मध्यम" कोहरा दर्ज किया गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि शनिवार को सफदरजंग में सबसे कम दृश्यता 200 मीटर दर्ज की गई थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें