ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली में छह दिन बाद बेहद खराब श्रेणी से नीचे आया प्रदूषण, इस हफ्ते कैसा रहेगा हाल?

दिल्ली में छह दिन बाद बेहद खराब श्रेणी से नीचे आया प्रदूषण, इस हफ्ते कैसा रहेगा हाल?

राजधानी में छह दिन बाद एक बार फिर प्रदूषण की परत कम होने से मामूली राहत मिली है। बेहद खराब श्रेणी में चल रही हवा मंगलवार को खराब स्तर पर आ गई। वायु गुण‌वत्ता सूचकांक 297 के अंक पर रहा।

दिल्ली में छह दिन बाद बेहद खराब श्रेणी से नीचे आया प्रदूषण, इस हफ्ते कैसा रहेगा हाल?
Krishna Singhलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीTue, 05 Dec 2023 10:59 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में प्रदूषण के स्तर में मंगलवार को सुधार देखा गया। दिल्ली में एक्यूआई 'खराब' श्रेणी में दर्ज किया गया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के अनुसार, 24 घंटे का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 297 रहा जो एक दिन पहले दर्ज किए गए 310 (बहुत खराब श्रेणी) से बेहतर है। धूप निकलने और हल्की हवा चलने के कारण यह बदलाव हुआ है।

अधिक प्रदूषित क्षेत्र
जगह             वायु गुणवत्ता सूचकांक
नेहरु नगर           352
बवाना                342
विवेक विहार        331
मुंडका                 329
द्वारका सेक्टर-8    327
एनएसआईटी द्वारका    323
आरके पुरम        321

डेढ़ माह से दिल्ली पर लगातार प्रदूषण की मार
बीते डेढ़ माह से दिल्ली के लोग लगातार प्रदूषण का सामना कर रहे हैं। इस दौरान एक भी दिन प्रदूषण स्तर खराब श्रेणी से नीचे नहीं आया है। बीते 20 अक्तूबर को दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक 195 रहा था। इसके बाद से हवा खराब, बेहद खराब, गंभीर और बेहद गंभीर श्रेणी में रही है। इस सीजन में सबसे ज्यादा प्रदूषण 3 नवंबर को रहा, जब वायु गुणवत्ता सूचकांक 468 दर्ज किया गया। बीते नवंबर के दौरान दो बार बारिश होने के चलते प्रदूषण में मामूली कमी देखने को मिली, लेकिन बेहद खराब श्रेणी से खराब श्रेणी तक ही पहुंचा।

वायु गुणवत्ता सूचकांक
30 नवंबर--398
1 दिसंबर---372
2 दिसंबर---353
3 दिसंबर---314
4 दिसंबर---310
5 दिसंबर---297

आज से फिर बढ़ने के आसार
विशेषज्ञों के अनुसार, धूप निकलने के चलते बीते कुछ दिनों में वायु गुणवत्ता सूचकांक कम हुआ है। मंगलवार दोपहर से शाम तक हवा की रफ्तार लगभग 12 किलोमीटर प्रतिघंटा रही, जिसके चलते वायु गुणवत्ता सूचकांक में कमी आई है। बुधवार से एक बार फिर हवा की रफ्तार बेहद कम रहने का अनुमान है। ऐसे में शुक्रवार तक प्रदूषण स्तर बेहद खराब श्रेणी में जा सकता है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें