ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRदिल्ली में बीएस-3 पेट्रोल और बीएस-4 डीजल वाहनों पर रोक, नियम तोड़ने पर 20 हजार का लगेगा जुर्माना

दिल्ली में बीएस-3 पेट्रोल और बीएस-4 डीजल वाहनों पर रोक, नियम तोड़ने पर 20 हजार का लगेगा जुर्माना

दिल्ली में वायु प्रदूषण से हालात खराब हो गए हैं। दिल्ली में ग्रैप स्टेज-3 से जुड़ी पाबंदियां लगा दी गई हैं। परिवहन विभाग ने दिल्ली में बीएस-3 पेट्रोल और बीएस-4 डीजल वाहनों के चलने पर रोक लगा दी है।

दिल्ली में बीएस-3 पेट्रोल और बीएस-4 डीजल वाहनों पर रोक, नियम तोड़ने पर 20 हजार का लगेगा जुर्माना
Krishna Singhहिंदुस्तान,नई दिल्लीMon, 05 Dec 2022 11:00 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

बढ़ते प्रदूषण स्तर के बीच दिल्ली में ग्रैप स्टेज-3 से जुड़ी पाबंदियां लगा दी गई हैं। इसी बीच परिवहन विभाग ने राजधानी में बीएस-3 पेट्रोल और बीएस-4 डीजल वाहनों (हल्के वाहन) के चलने पर रोक लगा दी है। इससे पहले नवंबर में भी वाहनों के प्रवेश और परिचालन पर रोक लगाई गई थी। सोमवार को परिवहन विभाग की ओर से प्रदूषण की स्थिति को लेकर समीक्षा की गई, जिसमें अधिकारियों ने पाया कि एक बार फिर से प्रदूषण का स्तर खराब स्थिति में पहुंच गया है, जिसके चलते ग्रैप-3 से जुड़ी पाबंदियां लगाई गई हैं। 

इसलिए, नौ दिसंबर तक वाहनों पर रोक लगाने का फैसला लिया गया है। परिवहन विभाग की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि 9 दिसंबर को फिर से प्रदूषण की स्थिति और ग्रैप से जुड़ी पाबंदियों की समीक्षा की जाएगी, जिसके बाद आगे का फैसला लिया जाएगा। परिवहन विभाग की तरफ से कहा गया है कि मोटर व्हीकल एक्ट-1988 से जुड़े प्रावधान के तहत रोक लगाई गई है। अगर कोई वाहन चालक नियम तोड़ता है तो फिर एक्ट के सेक्शन 194 के तहत 20 हजार रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा।

दिल्ली सीमा पर विशेष निगरानी 
पुलिस, ट्रैफिक पुलिस और परिवहन विभाग के सचल दल दिल्ली की सीमा में आने वाले वाहनों पर नजर रखेंगे। सभी को आदेश की छायाप्रति मुहैया कराई गई है, जिससे की व्यापक स्तर पर अभियान चलाया जा सके। अगर कहीं भी वाहन चालक आदेश का उल्लंघन करते पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। ध्यान रहे कि इससे पहले नवंबर के पहले सप्ताह में भी बीएस-3 पेट्रोल और बीएस-4 डीजल वाहनों पर रोक लगाई थी, जो करीब दो सप्ताह तक चली थी। अब प्रदूषण स्तर में सुधार होने तक यही पाबंदियां लागू रहेंगी।

वाहनों पर प्रतिबंध लगाने का करेंगे विरोध
दिल्ली टैक्सी एंड टूरिस्ट ट्रांसपोर्टर्स एसोसिएशन का आरोप है कि पहले यह रोक ग्रैप-4 लागू होने पर लगाई जाती थी लेकिन सरकार ने बीएस-3 पेट्रोल और बीएस-4 डीजल श्रेणी के हल्के वाहनों पर ग्रैप स्टेज-3 में ही रोक लगा दी है। यह एक तरह से इलेक्ट्रिक वाहन कंपनियों को लाभ पहुंचाने की नीयत से फैसला लिया गया है। एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय सम्राट का कहना है कि इस फैसले का यूनियन सड़कों पर उतरकर विरोध करने से भी पीछे नहीं हटेगी।