ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली एम्स में बनेगा सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, ट्रांसजेंडर्स को मिलेगा यह फायदा

दिल्ली एम्स में बनेगा सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, ट्रांसजेंडर्स को मिलेगा यह फायदा

दिल्ली एम्स में ट्रांसजेंडर को बेहतर उपचार देने के लिए एम्स में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस तैयार होगा। इसके जरिए ट्रांसजेंडर को कई तरह की सुविधाएं मिलेंगी। सेंटर सरकार को सुझाव भी देगा।

दिल्ली एम्स में बनेगा सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, ट्रांसजेंडर्स को मिलेगा यह फायदा
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 29 Nov 2023 06:12 AM
ऐप पर पढ़ें

ट्रांसजेंडर को बेहतर उपचार देने के लिए एम्स में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस तैयार होगा। इस सेंटर में ट्रांसजेंडर को सर्जरी के अलावा मनोविज्ञान, एंडोक्रिनोलॉजी, यूरोलॉजी, त्वचा सहित अन्य सभी विभागों की सुविधा का लाभ मिलेगा। सेंटर ट्रांसजेंडर समुदाय के हितों को ध्यान में रखते हुए नीति बनाने के लिए सरकार को सुझाव भी देगा। इसके अलावा मेडिकल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज के लिए पाठ्यक्रम भी डिजाइन करेगा। 

दरअसल, एम्स में मंगलवार को एसोसिएशन फॉर ट्रांसजेंडर हेल्थ इन इंडिया (एटीएचआई), ट्रांसजेंडर स्वास्थ्य के लिए विश्व व्यावसायिक संघ (डब्ल्यूपीएटीएच) सहित कई दूसरे अंतरराष्ट्रीय संगठनों के सहयोग से तीन दिवसीय कार्यशाला की शुरुआत हुई। कार्यशाला के पहले दिन एम्स के निदेशक डॉ एम. श्रीनिवास, नाको की निदेशक निधि केसरवानी, वर्ल्ड प्रोफेशनल एसोसिएशन फॉर ट्रांसजेंडर हेल्थ (डब्ल्यूपीएटीएच) की अध्यक्ष डॉ. मार्सी बोवर्स सहित कई लोगों ने अपने विचार रखें।

ट्रांसजेंडर का उपचार करने के लिए प्रशिक्षण में मदद मिलेगी

इसके लिए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनाने की दिशा में काम कर रहे है। इस बारे में निदेशक से भी बात चल रही है। यह सेंटर देश के अन्य मेडिकल कॉलेजों को भी ट्रांसजेंडर के उपचार के लिए प्रशिक्षण में मदद करेगा। बता दें कि इस वर्ष डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भी ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए विशेष ओपीडी क्लीनिक की शुरुआत की गई है। इसमें निशुल्क हार्मोनल उपचार, एंडोक्राइनोलॉजी की सुविधा, मनोरोग सुविधा, प्लास्टिक सर्जरी, त्वचा संबंधी सुविधा, मेडिसिन उपचार, यूरोलॉजी संबंधी उपचार, सभी खून जांच कराने, बाल रोग सहित कई दूसरी सुविधाएं दी जा रही है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें