DA Image
Monday, November 29, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRआधुनिक सुविधाओं से लैस होगा दिल्ली-आगरा हाईवे, जानें क्या होगा खास

आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा दिल्ली-आगरा हाईवे, जानें क्या होगा खास

प्रमुख संवाददाता, नई दिल्लीShivendra Singh
Sat, 23 Oct 2021 06:44 AM
आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा दिल्ली-आगरा हाईवे, जानें क्या होगा खास

एडवांस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (एटीएमएस) के तहत जल्द ही दिल्ली आगरा हाईवे को आधुनिक सुविधाओं से लैस किया जाएगा। जहां चलते वाहन से फास्टैग के जरिये टोल कट जाएगा, वहीं हाईवे पर चढ़ते ही मोबाइल लिंक के जरिये जाम की स्थिति, गति सीमा आदि की जानकारी मिलेगी। यातायात नियम तोड़ने से लेकर वाहनों की हर गतिविधि पर कंट्रोल रूम से कैमरे के जरिये नजर रखी जाएगी।

मेरठ एक्सप्रेसवे के बाद अब नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) ने देश के अन्य एक्सप्रेसवे और नेशनल हाईवे पर भी एडवांस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (एटीएमएस) लगाने का फैसला किया है। दिल्ली-आगरा नेशनल हाईवे-19 पर भी एटीएमएस को लागू किया जा रहा। इसे लेकर अथॉरिटी ने कंपनियों से 29 नवंबर तक टेंडर मांगे गए हैं।

360 डिग्री पर घूम सकेंगे आधुनिक कैमरे
नेशनल हाईवे पर चलने वाले हर वाहन पर कंट्रोल रूम के माध्यम से नजर रखी जा सकेगी। चलती हुई गाड़ी में आगे की दोनों सीटों पर बैठे यात्रियों से सीट बेल्ट लगाई है या नहीं। इसका भी कैमरे की मदद से पता लगाया जा सकेगा। एनएच पर कुछ कैमरे ऐसे लगाए जाएंगे जो 360 डिग्री पर घूम सकेंगे, ये कैमरे स्वत: ही कुछ समय के बाद घूमते रहेंगे। कंट्रोल रूम का लिंक यूपी, दिल्ली और हरियाणा की यातायात पुलिस को भी दिया जाएगा।

हाईवे पर चढ़ते ही फास्टैग से जुड़े नंबर पर मैसेज आएगा
जैसे ही आप एनएच पर चढ़ेंगे तो फास्टैग से जुड़े नंबर पर मैसेज जाएगा, जिस पर क्लिक करते ही पूरे नेशनल हाईवे का नक्शा खुल जाएगा। इसके माध्यम से आप आसानी से हाईवे पर जाम की स्थिति, गति सीमा समेत अन्य कई तरह की जानकारियां प्राप्त कर सकेंगे। वहीं हादसा होने, वाहन के निर्धारित गति सीमा से अधिक पर दौड़ने पर उसकी गति डिस्प्ले पर दिखाई देगी।

प्रदूषण की स्थिति का भी पता चलेगा
एटीएमएस के तहत नेशनल हाईवे के ऊपर बड़े डिजिटल डिस्प्ले मीटर भी लगाए जाएंगे, जिन पर यातायात नियमों की जानकारी के साथ तापमान भी देख सकेंगे। साथ ही नेशनल हाईवे और उसके आसपास के क्षेत्र में प्रदूषण की स्थिति का भी रियल टाइम पता लग सकेगा। दिल्ली-आगरा हाईवे का 16 किलोमीटर का हिस्सा दिल्ली में पड़ता है। बाकी हिस्सा हरियाणा और यूपी की सीमा में आता है, जिसे अब एटीएमएस से लैस किया जाना है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें