Death of three sisters in mandawali: report came out of second postmortem delhi police search father - तीन बहनों की मौत: दोबारा पोस्टमॉर्टम से सामने आई ये बात, पिता की तलाश में जुटी पुलिस DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीन बहनों की मौत: दोबारा पोस्टमॉर्टम से सामने आई ये बात, पिता की तलाश में जुटी पुलिस

delhi police

पूर्वी दिल्ली के मंडावली इलाके में कथित तौर पर भूख से हुई तीन बच्चियों की मौत के मामले में बच्चियों के पिता का पता लगाने के लिए पुलिस की टीमे गठित की गई हैं। इस बीच , दूसरी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि तीनों लड़कियों के '' पेट खाली थे  और उनके शरीर में जरा सा भी वसा नहीं पाया गया। 
      
केंद्र सरकार ने भी तीनों बहनों की मौत के मामले में जांच के आदेश दिए हैं जबकि दिल्ली के उप - मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि '' गरीबी और बीमार होने के कारण  मौतें हुई हैं और यह '' व्यवस्था की सबसे बड़ी नाकामी है।  
       
इस घटना के बाद संसद के भीतर और बाहर राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई।  भाजपा और कांग्रेस इतने '' चौंकाने वाले  मामले का ठीकरा आम आदमी पार्टी (आप) सरकार पर फोड़ रहे हैं जबकि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पार्टी नेताओं से कह रही है कि वे इस मामले का राजनीतिकरण नहीं करें। 
       
कई नेताओं ने आज मृतक लड़कियों की मां से मिलकर उन्हें नगद राशि दी। वह हताश और बीमार दिख रही थीं। 24 जुलाई को घर से जाने के बाद ही इन लड़कियों के पिता वापस नहीं लौटै। उसी दिन लड़कियों की मां उन्हें अस्पताल लेकर गई थी। 
       
सिसोदिया ने समेकित बाल विकास सेवा निदेशालय से कहा कि वह इलाके में रह रहे लोगों के रिकॉर्ड रखने के लिए जिम्मेदार अधिकारियों का ब्योरा सौंपे और जवाबदेही तय करे। इस बीच , राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने दिल्ली सरकार और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय को नोटिस जारी कर चार हफ्तों के भीतर उनसे रिपोर्ट मांगी है। भाजपा नेताओं ने ' आप  सरकार पर हमला बोलते हुए दावा किया कि दिल्ली में ' राशन घोटाला  हुआ है जिसकी वजह से सब्सिडी जरूरतमंदों तक नहीं पहुंच पा रही। 
        
डॉक्टरों ने आज कहा कि अटॉप्सी में पता चला कि तीनों लड़कियों के '' पेट खाली थे  और ऐसा लग रहा था जैसे उन्होंने एक हफ्ते से ज्यादा समय से कुछ खाया नहीं हो। पोस्ट मॉर्टम मंगलवार की शाम को किया गया था और यह शाम 6:30 बजे तक संपन्न् हो गया था। एलबीएस अस्पताल की चिकित्सा अधीक्षक डॉ . अमिता सक्सेना ने बताया , '' मंगलवार  शाम में पोस्टमार्टम हुआ । बुधवार को वे समीक्षा चाहते थे इसलिए कैमिकल टॉक्सिलोजी का भी सुझाव दिया गया। इसके बाद चिकित्सा बोर्ड बनाया गया और जीटीबी अस्पताल में दूसरी बार अंत्यपरीक्षण हुआ। 
          
पोस्टमार्टम के बाद फॉरेंसिक विशेषज्ञ किस नतीजे पर पहुंचे , इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा , '' जख्म का निशान नहीं था। यह पूरी तरह कुपोषण का मामला लगता है। शरीर में हड्डियां निकल आयी थी और पेट , मूत्राशय और मलाशय पूरी तरह खाली था। उन्होंने कहा , '' हम दूसरी राय लेना चाहते थे और पूरी तरह संतुष्ट होना चाहते थे इसलिए जीटीबी अस्पताल में दूसरा अंत्यपरीक्षण कराया गया।  उन्होंने कहा , '' इन बच्चों की मौत भयावह और दर्दनाक है। 

इस बीच , एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्होंने तीनों लड़कियों के पिता का पता लगाने के लिए कई टीमें बनाई हैं। 

दिल्ली में भूख से 3 बहनों की मौत पर सियासी घमासान, आयोग ने भेजा नोटिस

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Death of three sisters in mandawali: report came out of second postmortem delhi police search father