ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRगुरुग्राम में ऑनलाइन शराब बेचने के नाम पर ठगी, एक गलती करते ही महिला के खाते से उड़ गए पैसे

गुरुग्राम में ऑनलाइन शराब बेचने के नाम पर ठगी, एक गलती करते ही महिला के खाते से उड़ गए पैसे

सोनम ने बताया कि उन्होंने 10 अक्टूबर को ऑनलाइन शराब मंगाने के लिए गूगल सर्च किया। वहां उन्हें कोई वेबसाइट तो नहीं मिला लेकिन एक नंबर मिल गया जहां घर पर शराब भेजने की बात की गई थी।

गुरुग्राम में ऑनलाइन शराब बेचने के नाम पर ठगी, एक गलती करते ही महिला के खाते से उड़ गए पैसे
Devesh Mishraलाइव हिंदुस्तान,गुरुग्रामSun, 19 Nov 2023 03:09 PM
ऐप पर पढ़ें

ऑनलाइन शराब मंगाने के चक्कर में गुरुग्राम की एक महिला के साथ ठगी हो गई। दरअसल, 32 साल की सोनम शेखावत गूगल पर ऑनलाइन शराब खरीदने के लिए वेबसाइट सर्च कर रही थीं। लेकिन उन्हें इंटरनेट पर कोई वेबसाइट तो नहीं लेकिन एक फोन नंबर मिला जहां शराब की होम डिलीवरी करने की बात कही गई थी।

सोनम ने उस नंबर पर कॉल किया और कुछ ही देर में उनके साथ ठगी हो गई। 'इंडियन एक्सप्रेस' की रिपोर्ट के मुताबिक, सोनम गुरुग्राम के सेक्टर 82ए की निवासी हैं। यह ठगी उनके साथ पिछले महीने हुई थी। 11 अक्टूबर को उन्होंने शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने शुक्रवार को साइबर क्राइम मानेसर पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की है।

सोनम ने बताया कि उन्होंने 10 अक्टूबर को ऑनलाइन शराब मंगाने के लिए गूगल सर्च किया। वहां उन्हें एक नंबर मिल गया जहां घर पर शराब भेजने की बात की गई थी। नंबर पर कॉल करके सोनम ने एक शराब की बोतल ऑर्डर की और यूपीआई से तीन हजार रुपए का पेमेंट किया। पेमेंट के ठीक बाद उनके पास एक कॉल आई और होम डिलीवरी के लिए अतिरिक्त पैसे मांगे गए। डिलीवरी चार्ज बहुत ज्यादा होने की वजह से सोनम ने ऑर्डर कैंसिल करने को कहा।

ऑर्डर कैंसिल करने और तीन हजार रुपए वापस भेजने के लिए जालसाजों ने सोनम से 5 रुपए का पेमेंट करने को कहा। सोनम ने पैसे भेज दिए और उनके खाते में तीन हजार रुपए वापस आ भी गए। लेकिन कुछ ही देर बाद उनके फोन पर एक मैसेज आया कि उनके खाते से 29,986 रुपए निकाल लिए गए हैं। बस होना क्या था... सोनम के साथ ठगी हो गई थी। उनके खाते से पैसे उड़ा लिए गए।

सोनम ने बताया कि उन्होंने कोई भी ऐप डाउनलोड नहीं किया था। पुलिस का कहना है कि जालसाजों ने सोनम को एक क्यूआर कोड भेजा था। पुलिस को शक है कि 5 रुपए के पेमेंट के बाद ही उनके खाते की जानकारी अपराधियों तक पहुंची। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें