DA Image
14 दिसंबर, 2020|7:14|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली के बाद नोएडा और गाजियाबाद में भी शादियों पर हुई सख्ती, अब सिर्फ 100 लोगों को बुलाने की इजाजत

दिल्ली-एनसीआर में बेकाबू होते कोरोना ने अब सरकारों और प्रशासन को फिर से सख्त कदम उठाने के लिए मजबूर कर दिया है। दिल्ली के बाद अब गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद जिला प्रशासन ने भी शादी-विवाह और अन्य कार्यक्रमों में शामिल होने वाले मेहमानों की खंख्या सीमित कर दी है।  

गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद के जिलाधिकारियों ने शनिवार को अलग-अलग आदेश जारी कर अब शादी या अन्य किसी भी कार्यक्रम में 100 से अधिक लोगों के शामिल होने पर रोक लगा दी है। जिलाधिकारियों ने ने अपने आदेश में कहा है कि नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही आदेश में सभी लोगों से मास्क का उपयोग करने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और बार-बार हाथ धोने की अपील भी की गई है।

रैंडम कोविड-19 जांच में 6 संक्रमित मिले

स्वास्थ्य विभाग ने उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के प्रयास के तहत दिल्ली से नोएडा आने वाले लोगों की शुक्रवार को तीसरे दिन भी बॉटेनिकल गार्डन और झुण्डपुरा में 179 लोगों की रैपिड एंटीजन किट से जांच की, जिसमें 6 लोग कोविड संक्रमित मिले। तीन दिन की जांच में 18 लोग संक्रमित मिल चुके हैं।

उल्लेखनीय है कि जिले में कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने दिल्ली-नोएडा सीमा के अलावा मेट्रो स्टेशन, बस अड्डों सहित कई अन्य स्थानों पर लोगों की औचिक तरीके से एंटीजन जांच के निर्देश दिए हैं।

दिल्ली में केवल 50 लोगों को ही शादी में शामिल होने की इजाजत 

गौरतलब है कि बीते दिनों अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी की सरकार ने भी दिल्ली में होने वाले शादी समारोहों में शामिल होने वाले मेहमानों की संख्या 200 से घटाकर 50 कर दी है। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने शहर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर अतिथियों की पहले की संख्या सीमा को बुधवार को वापस ले लिया है। डीडीएमए के अध्यक्ष उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिल्ली में शादी समारोह में केवल 50 लोगों को शिरकत करने की अनुमति देने के 'आप' सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। दिल्ली सरकार ने 31 अक्टूबर को शादी समारोह में 200 लोगों तक को शामिल हो होने की इजाजत दे दी थी। सरकार ने अनलॉक की अवधि के दौरान 50 लोगों की सीमा तय की हुई थी। केजरीवाल ने मंगलवार को कहा था कि उनकी सरकार ने शहर में शादी में 200 लोगों के शामिल होने देने के पहले आदेश को वापस लेने का फैसला किया है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:COVID-19: Only 100 people to be allowed at marriage functions in Gautam Budh Nagar