DA Image
9 जुलाई, 2020|11:33|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली : कंटेनमेंट जोन नबी करीम के 3 पुलिसवालों में मिला कोरोना

दिल्ली के नबी करीम क्षेत्र के तीन पुलिस कर्मियों में कोरोना वायरस पाया गया है। दिल्ली पुलिस ने बताया कि सोमवार को आई उनकी COVID-19 टेस्ट रिपोर्ट में इसकी पुष्टि हुई है।

इसकी जानकारी मिलते ही इन पुलिस कर्मियों के परिवारों को क्वारंटाइन में भेज दिया गया है। इलाके में सैनिटाइजेशन का काम जारी है। नबी करीम दिल्ली के 84 कंटेनमेंट जोन में से एक है।

जानकारी के अनुसार, कोरोना संक्रमण के खतरे से निपटने के लिए दिल्ली पुलिस के थाने भी अपनी तरफ से सतर्कता बरत रहे हैं। उत्तरी जिले के थानों में बिना मास्क पहने व्यक्ति को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि इसकी शुरुआत बुराड़ी थाने से की गई थी। अब सदर बाजार, बाड़ा हिंदूराव, कोतवाली सहित अन्य थानों में भी इसे लागू कर दिया गया है। हालांकि, कुछ थानों ने खुद पहल कर अलग व्यवस्था भी की है। बुराड़ी थाने के प्रवेश द्वार पर सेनेटाइजेशन गेट लगाया गया है। थानों में कोरोना को लेकर दिए गए निर्देशों का पालन कराने के लिए शिफ्ट में एक अधिकारी भी नियुक्त किया गया है। यह एसआई से लेकर कांस्टेबल तक होता है।

दिल्ली के सभी जिलों में रैपिड जांच आज से

दिल्ली में बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या के बीच सोमवार से रैपिड जांच शुरू कर दी गई है। नबी करीम से शुरू हुई यह एंटी बॉडी रैपिड जांच मंगलवार से दिल्ली के दूसरे जिलों में भी शुरू होगी। इस दौरान संक्रमित लोगों को चिह्नित कर उन्हें अलग किया जाएगा।

दिल्ली के हॉटस्पॉट में यह रैपिड जांच डीएम की निगरानी में होंगी। इसके लिए खासतौर पर तैयार की गई टीम ही जांच के लिए हॉटस्पॉट इलाके में जाएगी। जिले के सबसे अधिक संक्रमित हॉटस्पॉट इसकी प्राथमिकता होगी। अगले कुछ दिनों में 42 हजार रैपिड टेस्ट अलग-अलग हॉटस्पॉट में किए जाएंगे। हालांकि, दिल्ली सरकार ने केंद्र से और किट की मांग की है।

बगैर लक्षण वाले मरीजों को चिन्हित करने में होगी आसानी : दिल्ली में बीते कुछ दिनों से बगैर लक्षण वाले कोरोना मरीज बड़ी संख्या में आए हैं। सरकार का मानना है कि हॉट स्पॉट इलाके में रैपिड टेस्ट जांच की मदद से ऐसे मरीजों को चिन्हित करके अलग रखने में मदद मिलेगी, जिससे संक्रमण को नियंत्रित किया जा सकेगा।

दक्षिण पश्चिम जिले में जांच

दक्षिण पश्चिमी जिला ने अपना यहां पांच हॉटस्पॉट में बीते कुछ दिनों में रैंडम जांच कराई थी। जिला प्रशासन ने कुल 506 लोगों की जांच की। कुल 346 लोगों की रिपोर्ट आ गई है। अच्छी खबर यह है कि इसमें तीन ही पॉजिटिव मिले हैं। वहीं, 160 लोगों की रिपोर्ट आनी बाकी है। यह जांच महावीर एंक्लेव, कापसहेड़ा, सी ब्लॉक जनकपुरी, दीनपुर गांव और शहजहानाबाद में की गई थी।

कैदी वैन बनेंगे लैब

सरकार दिल्ली पुलिस की 25 कैदी वैन को मोबाइल लैब में बदलेगी। इसका प्रयोग रैपिड टेस्ट करने वाली टीम करेगी। यह चलता फिरता लैब होगा। इसमें जांच से संबंधित सभी सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Coronavirus found in 3 Delhi policemen of Containment Zone in Nabi Karim