ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRलाक्षागृह बनने से बचा कनॉट प्लेस का गेमिंग जोन, 6 बच्चे सुरक्षित बाहर निकाले; AC में शॉर्ट सर्किट से हुआ हादसा

लाक्षागृह बनने से बचा कनॉट प्लेस का गेमिंग जोन, 6 बच्चे सुरक्षित बाहर निकाले; AC में शॉर्ट सर्किट से हुआ हादसा

राजधानी दिल्ली के कनॉट प्लेस स्थित गेमिंग जोन में रविवार दोपहर को एसी में शॉर्ट सर्किट होने से आग लग गई। आग लगते ही गेमिंग जोन में मौजूद छह बच्चों को कर्मचारियों ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया।

लाक्षागृह बनने से बचा कनॉट प्लेस का गेमिंग जोन, 6 बच्चे सुरक्षित बाहर निकाले; AC में शॉर्ट सर्किट से हुआ हादसा
Praveen Sharmaनई दिल्ली। हिन्दुस्तानMon, 10 Jun 2024 06:25 AM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी दिल्ली के कनॉट प्लेस स्थित मिस्ट्री रूम्स (Mystery Rooms) गेमिंग जोन में रविवार दोपहर को एसी में शॉर्ट सर्किट होने से आग लग गई। आग लगते ही गेमिंग जोन में मौजूद छह बच्चों को कर्मचारियों ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया। आग की सूचना पाकर मौके पर पहुंचीं दमकल की सात गाड़ियों ने 15 मिनट में आग पर काबू पाया।

जानकारी के अनुसार, एम ब्लाक स्थित इमारत में पहली मंजिल पर करीब सौ वर्ग गज क्षेत्रफल में गेमिंग जोन संचालित होता है। रविवार को छुट्टी होने की वजह से गेमिंग जोन में छह बच्चे खेल रहे थे। इसी दौरान बाहर की तरफ लगे एसी में शॉर्ट सर्किट से चिंगारी निकली और आग लग गई।

ऐसे में कर्मचारियों की सूझबूझ से कनॉट प्लेस का गेमिंग जोन लाक्षागृह बनने से बच गया। एसी से धुआं निकलता देखकर उन्होंने पहले वहां मौजूद बच्चों को बाहर निकाला और पावर कट कर दमकल विभाग को इसकी सूचना दी। इसकी वजह से गुजरात जैसा बड़ा हादसा होने से बच गया। उन्होंने खुद भी आग बुझाने की कोशिश में देरी नहीं की। आमतौर पर रविवार को भारी भीड़ रहती है, लेकिन गनीमत रही कि घटना के समय वहां ज्यादा बच्चे नहीं थे। बताया जाता है कि गेमिंग जोन वाली कंपनी की दिल्ली में कई जगह शाखाएं हैं।

आग लगने की घटना की करीब 3:21 बजे दमकल विभाग को सूचना दी गई। फायर स्टेशन ऑफिसर प्रेमलाल ने बताया कि दमकल केंद्र से घटनास्थल की दूरी चंद मिनटों की होने की वजह से फायदा मिला। पुलिस अधिकारी ने बताया कि पूरा गेमिंग जोन सील कर दिया गया है। पूरी तरह से आग बुझने के बाद फॉरेंसिक और क्राइम टीम मौके का मुआयना करेगी। बिजली कंपनी और दिल्ली सरकार के बिजली विभाग के विशेषज्ञों से घटनास्थल का मुआयना कराकर जांच रिपोर्ट मंगाई जाएगी।

टीम ने एक कर्मचारी को छत से सुरक्षित निकाला

जब आग लगी तो एक कर्मचारी जान बचाने के लिए छत पर चढ़ गया था। दमकल की टीम ने उसे सीढ़ी की मदद से सुरक्षित नीचे उतारा। दो घंटे तक कूलिंग की प्रक्रिया चलाई गई और तलाशी अभियान शुरू किया गया। किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

माता-पिता को बुलाकर बच्चों को सौंपा गया

पुलिस ने एम ब्लॉक स्थित इमारत में पहली मंजिल पर बने गेमिंग जोन से सुरक्षित बाहर निकाले गए बच्चों को उनके माता-पिता को बुलाकर सौंप दिया है। इस पूरी घटना से बच्चों के माता-पिता भी दहशत में आ गए थे। हालांकि, सब कुछ सामान्य देखकर राहत की सांस ली।