ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRकांग्रेस दिल्ली में किस लोकसभा सीट से किन्हें दे सकती है मौका? इनके नाम को लेकर अटकलें

कांग्रेस दिल्ली में किस लोकसभा सीट से किन्हें दे सकती है मौका? इनके नाम को लेकर अटकलें

Delhi Congress Lok Sabha Seats: दिल्ली में कांग्रेस से किन नेताओं को दिया जा सकता है मौका? सियासी गलियारे में किन नेताओं को लेकर अटकलों का बाजार है गर्म जानने के लिए पढ़ें यह रिपोर्ट... 

कांग्रेस दिल्ली में किस लोकसभा सीट से किन्हें दे सकती है मौका? इनके नाम को लेकर अटकलें
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 25 Feb 2024 12:09 AM
ऐप पर पढ़ें

इंडिया गठबंधन में शामिल कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच लोकसभा सीटों को लेकर समझौता हो गया है। दोनों पार्टियों के नेताओं ने शनिवार को संयुक्त रूप से इसका ऐलान किया। आम आदमी पार्टी नई दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली और पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ेगी, जबकि कांग्रेस उत्तर-पश्चिम, चांदनी चौक और उत्तर पूर्वी दिल्ली से अपने उम्मीदवारों को उतारेगी। दिल्ली में कांग्रेस से किन नेताओं को दिया जा सकता है मौका? सियासी गलियारे में किन नेताओं को लेकर अटकलों का बाजार है गर्म जानने के लिए पढ़ें यह रिपोर्ट... 

लवली को दिया जा सकता है मौका
समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस अपने दिल्ली इकाई प्रमुख अरविंद सिंह लवली (Arvind Singh Lovely) को उत्तर पूर्वी दिल्ली सीट से मैदान में उतार सकती है, जहां शहर के सभी संसदीय क्षेत्रों में मुस्लिम आबादी का प्रतिशत सबसे अधिक (29 प्रतिशत से अधिक) है। 

कन्हैया कुमार को भी टिकट दे सकती है कांग्रेस
युवा कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) का नाम भी पूर्वोत्तर दिल्ली सीट से संभावित उम्मीदवार के तौर पर चल रहा है, जहां पर पूर्वांचली मतदाताओं का दबदबा है। पूर्वोत्तर दिल्ली क्षेत्र साल 2020 में दंगों से हिल गया था।

उदित राज का नाम भी चर्चा में 
पार्टी सूत्रों ने कहा कि 2014 में भाजपा के टिकट पर उत्तर पश्चिमी दिल्ली से जीत हासिल करने वाले उदित राज इस बार उसी निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस के उम्मीदवार हो सकते हैं। साल 2019 के चुनावों में टिकट नहीं मिलने के बाद वह बीजेपी छोड़ कर कांग्रेस में शामिल हो गए थे। 

महाबल मिश्रा को मिल सकता है मौका
कांग्रेस सूत्रों ने कहा कि AAP इस बार पश्चिमी दिल्ली के पूर्व सांसद महाबल मिश्रा को उसी निर्वाचन क्षेत्र से मैदान में उतार सकती है। 2019 में कांग्रेस के उम्मीदवार महाबल मिश्रा को भाजपा के प्रवेश वर्मा, पूर्व मुख्यमंत्री साहिब सिंह वर्मा के बेटे, ने 5.8 लाख से अधिक वोटों के भारी अंतर से हराया था।

चांदनी चौक सीट से इन्हें दिया जा सकता है मौका
कांग्रेस चांदनी चौक निर्वाचन क्षेत्र से भी चुनाव लड़ेगी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जेपी अग्रवाल, जो इस निर्वाचन क्षेत्र से पूर्व में सांसद रह चुके हैं, इस बार प्रमुख संभावित माने जा रहे हैं। सूत्रों ने दावा किया कि महिला कांग्रेस प्रमुख अलका लांबा पर भी कांग्रेस विचार कर सकती है। अलका लांबा ने पहले AAP नेता के रूप में चांदनी चौक विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व किया था। 

सातों सीटों पर भाजपा को हराएंगे : लवली
लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के साथ सीटों को लेकर हुए समझौते के बाद कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली ने भाजपा पर निशाना साथा। उन्होंने कहा कि इंडिया गठबंधन दिल्ली में सातों लोकसभा सीटों पर भाजपा को हराने के लिए तैयार है। कांग्रेस कार्यकर्ता इंडिया गठबंधन को सभी सीट जितवाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। लवली ने गठबंधन का स्वागत करते हुए कहा कि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी दोनों के कार्यकर्ता यह सुनिश्चित करेंगे कि इंडिया गठबंधन की जीत हो।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें