ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRबच्चे के शोर मचाने पर हैवान बनी महिला, लोहे की रॉड से पीटा; 10-12 कुत्तों के सामने फेंका मासूम

बच्चे के शोर मचाने पर हैवान बनी महिला, लोहे की रॉड से पीटा; 10-12 कुत्तों के सामने फेंका मासूम

दिल्ली के सफदरजंग एन्क्लेव में घर के बाहर शोर मचाने पर एक महिला ने बच्चे को लोहे की रॉड से पीट दिया। फिर घर में मौजूद कुत्तों के सामने फेंक दिया। दो कुत्तों ने बच्चे को कई जगह से काट दिया।

बच्चे के शोर मचाने पर हैवान बनी महिला, लोहे की रॉड से पीटा; 10-12 कुत्तों के सामने फेंका मासूम
Sneha Baluniराजन शर्मा,नई दिल्लीFri, 16 Feb 2024 05:31 AM
ऐप पर पढ़ें

सफदरजंग एन्क्लेव में 10 फरवरी को घर के बाहर खेलने के दौरान शोर मचाने पर महिला ने 13 वर्षीय बच्चे को लोहे की रॉड से पीट दिया। फिर घर में मौजूद कुत्तों के सामने फेंक दिया। दो कुत्तों ने बच्चे को कई जगह से काट डाला। परिजनों ने मौके पर पहुंचकर उसे बचाया और पुलिस को सूचना दी। सफदरजंग थाना पुलिस मौके पर पहुंची और बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने केस दर्ज कर महिला को गिरफ्तार कर लिया।  पुलिस अधिकारी ने बताया कि 13 वर्षीय बच्चा अपने परिवार के साथ कृष्णा नगर इलाके में रहता है और निजी स्कूल में 7वीं कक्षा में पढ़ता है। 

बच्चे ने बताया कि वह 10 फरवरी की शाम को घर के पास साइकिल चला रहा था। वह खेलते हुए बी-5 सफदरजंग एन्क्लेव के सामने पहुंचा तो वहां रहने वाली महिला चिल्लाते हुए घर के बाहर आई। उसे जबरन साइकिल से उतारकर घसीटते हुए अपने घर में ले गई। पीड़ित बच्चे की मां का आरोप है कि महिला ने उसे कई थप्पड़ लगाए और लोहे की रॉड से जमकर पीटा। पिटाई के बाद उसने घर में मौजूद 10 से 12 कुत्तों के सामने उसे फेंक दिया। उनमें से दो ने बच्चे को कई जगह काटा।

पुलिस ने महिला को गिरफ्तार किया

बच्चे ने कुत्तों के हमला करने के दौरान ही परिजनों को फोन किया। इसके बाद उसकी मां मौके पर पहुंची और उसे बचाया। बच्चे की मां ने मामले की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्चे को सफदरजंग अस्पताल पहुंचाया, जहां बच्चे का उपचार किया गया। सफदरजंग थाना पुलिस मौके पर पहुंची और बच्चे के बयान केस दर्ज कर लिया। प्राथमिक जांच के बाद पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया। पीड़ित की मां ने आरोप लगाया कि महिला एनजीओ चलाती है, जिसके चलते वह अक्सर इलाके में झगड़ा करती है। 

दक्षिण-पश्चिमी जिले के पुलिस उपायुक्त रोहित मीणा ने कहा, 'मामले की सूचना मिलते ही पुलिस ने बच्चे को सुरक्षित बचाकर अस्पताल पहुंचाया। वहां बच्चे के बयान पर केस दर्ज कर महिला को गिरफ्तार कर लिया गया। बच्चे की मां के आरोपों की भी जांच की जा रही है।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें