DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › छठ पर जारी है सियासत: गोपाल राय का केंद्र पर निशाना, कहा- अब तक क्यों नहीं जारी की गाइडलाइन
एनसीआर

छठ पर जारी है सियासत: गोपाल राय का केंद्र पर निशाना, कहा- अब तक क्यों नहीं जारी की गाइडलाइन

वरिष्ठ संवाददाता,नई दिल्लीPublished By: Sneha Baluni
Thu, 14 Oct 2021 07:20 AM
छठ पर जारी है सियासत: गोपाल राय का केंद्र पर निशाना, कहा- अब तक क्यों नहीं जारी की गाइडलाइन

दिल्ली में छठ पूजा पर चल रहे सियासी घमासान के बीच आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। गोपाल राय ने कहा कि केंद्र सरकार के निर्देश की वजह से छठ पूजा के सार्वजनिक आयोजन में कोविड दिशानिर्देशों का पालन अनिवार्य हैं। देश में राष्ट्रीय आपदा अधिनियम लागू होने के कारण केंद्र सरकार के निर्देश पर ही राज्य सरकार सार्वजनिक छठ पूजा आयोजन में कोविड प्रोटोकॉल से छूट दे सकती है।

गोपाल राय ने कहा कि पिछले साल कोविड-19 महामारी के कारण केंद्र सरकार की गाइडलाइन आई कि छठ पूजा नहीं करवाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि निगम से भी भाजपा अब जा रही है, इसलिए छठ पूजा के बहाने दोबारा राजनीति चमकाने की कोशिश कर रही है। गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार को पत्र लिखा है कि छठ पूजा को लेकर गाइडलाइंस स्पष्ट की जाए। भाजपा को छठ पूजा की इतनी चिंता है तो आज तक गाइडलाइन जारी क्यों नहीं की।

गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली के अंदर सबसे पहले भारतीय जनता पार्टी की सरकार थी। तब छठ पूजा नहीं होती थी। उसके बाद कांग्रेस पार्टी की सरकार बनी, जिसमें 68 जगहों पर छठ पूजा शुरू हुई। आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद छठ पूजा स्थलों की संख्या बढ़ी है। आम आदमी पार्टी ने आखिरी बार 1068 जगहों पर पूजा करवाई है। पिछले साल कोविड-19 महामारी के कारण केंद्र सरकार की गाइडलाइन आई कि छठ पूजा नहीं करवाई जानी चाहिए। 

केंद्र सरकार ने स्वास्थ्य विभाग और एक्सपर्ट की राय जारी की थी कि सबसे ज्यादा कोरोना वायरस पानी के कनेक्शन से फैलता है। छठ पूजा पानी में खड़े होकर की जाती है। इसलिए केंद्र सरकार की तरफ से पिछली बार गाइडलाइन दी गई थी कि घर में रह करके लोग पूजा करें। भारतीय जनता पार्टी छठ पूजा को लेकर राजनीति करने की कोशिश कर रही है।

संबंधित खबरें