ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रूट में बदलाव, अब 9 के बजाय यहां बनेंगे 11 स्टेशन; इन सेक्टरों को होगा सीधा फायदा

ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रूट में बदलाव, अब 9 के बजाय यहां बनेंगे 11 स्टेशन; इन सेक्टरों को होगा सीधा फायदा

नोएडा से ग्रेटर नोएडा वेस्ट के नॉलेज पार्क-5 तक जाने वाली मेट्रो लाइन पर अब 11 स्टेशन बनाए जाएंगे। पहले नौ स्टेशन बनने प्रस्तावित थे। डीएमआरसी ने इस नए रूट की डीपीआर तैयार कर एनएमआरसी को सौंप दी है।

ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रूट में बदलाव, अब 9 के बजाय यहां बनेंगे 11 स्टेशन; इन सेक्टरों को होगा सीधा फायदा
Praveen Sharmaनोएडा। हिन्दुस्तानMon, 05 Feb 2024 07:48 AM
ऐप पर पढ़ें

नोएडा से ग्रेटर नोएडा वेस्ट के नॉलेज पार्क-5 तक जाने वाली मेट्रो लाइन पर अब 11 स्टेशन बनाए जाएंगे। पहले नौ स्टेशन बनने प्रस्तावित थे। डीएमआरसी ने इस नए रूट की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार कर एनएमआरसी को सौंप दी है। एनएमआरसी के अधिकारियों ने इसका अध्ययन शुरू कर दिया है। बोर्ड बैठक में जल्द डीपीआर को मंजूरी दी जाएगी।

अभी एनएमआरसी सेक्टर-51 से ग्रेटर नोएडा डिपो तक एक्वा लाइन मेट्रो का संचालन कर रहा है। बीते पांच-छह साल से इस लाइन को ग्रेनो वेस्ट तक ले जाने की तैयारी है। पहले इस रूट की तैयार डीपीआर के मुताबिक, सेक्टर-51 से यह मेट्रो लाइन शुरू होकर सेक्टर-72 बाबा बालकनाथ मंदिर के सामने से सीधे 130 मीटर रोड होते हुए ग्रेटर नोएडा तक जाती। सेक्टर-51 मेट्रो स्टेशन से दिल्ली से आ रही ब्लू लाइन के सेक्टर-52 से सीधी कनेक्विटी नहीं हो पाई।

ऐसे में एनएमआरसी व नोएडा प्राधिकरण के निर्देश पर डीएमआरसी ने नए रूट की डीपीआर तैयार की है। इसके तहत मेट्रो सेक्टर-51 स्टेशन से सेक्टर-72 बाबा बालकनाथ मंदिर की तरफ न जाकर सीधे सेक्टर-61 की तरफ जाएगी। यहां से ब्लू लाइन के सेक्टर-61 स्टेशन से इसको प्लैटफॉर्म के जरिये जोड़ा जाएगा।

यह मेट्रो लाइन फेज तीन कोतवाली, सेक्टर-71 कैलाश अस्पताल के सामने से होते हुए सेक्टर-121 क्लियो काउंटी के सामने निकलेगी। इसके बाद पुराने रूट पर पर्थला सिग्नेचर ब्रिज के पास जुड़ जाएगी।

794 करोड़ लागत बढ़ी

इस बार जो रूट बनाया है वह पहले के मुकाबले ढाई किलोमीटर लंबा है। पहले 14 पॉइंट 958 किलोमीटर लंबा रूट बनाया गया था जो अब 17 पॉइंट 435 किलोमीटर लंबा हो गया है। दो स्टेशन अतिरिक्त बनने से लागत करीब 794 करोड़ बढ़ गई है। अब लागत 2991 करोड़ रुपये तय की गई है।

एक साथ मेट्रो चलाई जाएगी

एनएमआरसी अधिकारियों ने बताया कि अभी तक इस रूट पर दो चरणों में मेट्रो चलाने की तैयारी थी। पहले फेज में सेक्टर-51 से ग्रेटर नोएडा वेस्ट के सेक्टर-2 तक चलती है। इसके बाद दूसरे फेज का काम शुरू होता, लेकिन अब पूरे रूट पर एक साथ मेट्रो चलाई जाएगी।

ये स्टेशन प्रस्तावित

  • सेक्टर-61 स्टेशन
  • एक अन्य स्टेशन
  • सेक्टर-122
  • सेक्टर-123
  • सेक्टर-4 ग्रेटर नोएडा वेस्ट
  • सेक्टर-12 ईकोटेक
  • सेक्टर-2 ग्रेटर नोएडा वेस्ट
  • सेक्टर-3 ग्रेटर नोएडा वेस्ट
  • सेक्टर-10 ग्रेटर नोएडा वेस्ट
  • सेक्टर-12 ग्रेटर नोएडा वेस्ट
  • नॉलेज पार्क-5 ग्रेटर नोएडा आदि स्टेशन प्रस्तावित किए गए हैं।

-डॉ. लोकेश एम, प्रबंध निदेशक, एनएमआरसी, ''नोएडा से ग्रेनो वेस्ट जाने वाली मेट्रो की डीपीआर मिल गई है। इसका अध्ययन किया जा रहा है। फिर बोर्ड में मंजूरी के लिए इसको रखा जाएगा।''

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें