ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRसंस्थाओं को ध्वस्त किया जा रहा; चंडीगढ़ मेयर केस में SC के फैसले पर क्या बोले केजरीवाल?

संस्थाओं को ध्वस्त किया जा रहा; चंडीगढ़ मेयर केस में SC के फैसले पर क्या बोले केजरीवाल?

विवादास्पद चंडीगढ़ मेयर चुनाव के मामले में सुप्रीम कोर्ट के रुख पर दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल गदगद हैं। इस रिपोर्ट में जानें उन्होंने क्या कहा?

संस्थाओं को ध्वस्त किया जा रहा; चंडीगढ़ मेयर केस में SC के फैसले पर क्या बोले केजरीवाल?
Krishna Singhबृजेश सिंह,नई दिल्लीTue, 20 Feb 2024 06:15 PM
ऐप पर पढ़ें

सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को चंडीगढ़ मेयर चुनाव के नतीजे को पलट दिया और हारे हुए आप-कांग्रेस गठबंधन के उम्मीदवार कुलदीप कुमार को शहर का नया मेयर घोषित कर दिया। इस चुनाव में पहले भाजपा उम्मीदवार को विजयी घोषित किया गया था। शीर्ष अदालत ने 30 जनवरी के चुनाव के संचालन में गंभीर खामियां पाईं। साथ ही चुनाव के रिटर्निंग अधिकारी अनिल मसीह पर कथित कदाचार के लिए मुकदमा चलाने का भी आदेश दिया। इस फैसले पर आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने सर्वोच्च न्यायालय को 'थैंक यू' बोला है।

ऐतिहासिक फैसला
सुप्रीम कोर्ट का चंडीगढ़ के मेयर चुनाव में ऐतिहासिक फैसला आया है। हमने सबने देखा कि किस तरह के चंडीगढ़ मेयर चुनाव में साफ था कि 20 वोट इंडिया गठबंधन के थे और 16 वोट भाजपा के थे। चुनाव के दौरान 20 में से 8 वोट को गलत तरीके से इनवैलिड डिक्लेयर कर दिया गया और इंडिया गठबंधन के उम्मीदवार कुलदीप कुमार को हारा हुआ घोषित कर दिया गया। मामला जब सुप्रीम कोर्ट में गया कोर्ट ने जल्दी-जल्दी सुनवाई करके फैसला दिया। 

भारतीय इतिहास में पहली बार
केजरीवाल ने कहा- हमने देखा कि किस तरह से माननीय सुप्रीम कोर्ट ने सारे बैलेट पेपर मांगे और इन्हें खुद देखा। आज परिणाम घोषित कर दिया। मुझे लगता है भारतीय इतिहास में पहली बार हुआ है। हम सुप्रीम कोर्ट का शुक्रिया अदा करते हैं। इतने कठिन समय में आज जो देश के हालात हैं, पूरी डिक्टेटरशिप चल रही है, जनतंत्र को कुचला जा रहा है। ऐसे समय में सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला बहुत मायने रखता है। आज दूध का दूध और पानी का पानी हो गया। 

सुप्रीम कोर्ट का शुक्रिया
केजरीवाल ने कहा- मैं फिर इंडिया गठबंधन को बधाई देता हूं। सुप्रीम कोर्ट का शुक्रिया अदा करता हूं। ये लोग (भाजपा) पहले चुनाव में गड़बड़ी करते हैं। यदि हार जाते हैं तो पार्षदों, विधायकों और सांसदों को तोड़ना चालू कर देते हैं। फिर ईडी, सीबीआई लगा देते हैं। ये हर तरीके से सरकारों को गिराने में लग जाते हैं। यह जनतंत्र नहीं है। 

यदि हम एकजुट हो जाएं तो...
केजरीवाल ने यह भी कहा कि आज यह भी साबित हो गया है कि यदि हम लोग इकट्ठे हो जाएं तो भाजपा को हरा सकते हैं। जो लोग कहते हैं कि बीजेपी को हराया नहीं जा सकता है। अब साफ है कि यदि हम संगठित हो जाएं, तो बीजेपी को हराया सकता है। हम रणनीति बनाकर काम करें तो बीजेपी को हरा सकते हैं। हमने यह करके दिखा दिया है। 

सीट बंटवारे पर क्या कहा?
केजरीवाल ने सीट बंटवारे पर कहा कि कई राउंड बैठक हो चुकी है। कई चीजों पर डिस्कशन हो चुका है। सारी चीजों पर बात हो रही है। सभी राज्यों में बात हो रही है। कई राउंड आफ डिस्कशन हो चुका है। काफी अच्छी बातचीत चल रही है। जिन लोगों ने इंडिया गठबंधन छोड़ा है उनका अपना कारण होगा। देश को जो लोग बचाना चाहते हैं उन सबका इंडिया गठबंधन में स्वागत है।

पार्षदों की 'खरीद-फरोख्त' जताई चिंता
मुख्य न्यायाधीश डीवाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति जेबी पारदीवाला और न्यायमूर्ति मनोज मिश्रा की पीठ ने मंगलवार को चुनाव में कथित तौर पर हारे आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार कुलदीप कुमार की याचिका पर सुनवाई की। कुलदीप कुमार ने अपनी याचिका में रिटर्निंग अधिकारी अनिल मसीह पर चुनावी गड़बड़ी का आरोप लगाया गया था। इस याचिका पर शीर्ष अदालत ने मतपत्रों की जांच की। साथ ही चुनाव के दौरान रिकॉर्ड वीडियो फुटेज की पड़ताल की। अदालत ने सोमवार को पार्षदों की 'खरीद-फरोख्त' के आरोपों पर गहरी चिंता जताई थी। शीर्ष अदालत ने क्या फैसला दिया है। पढ़ें पूरी रिपोर्ट...

चंडीगढ़ में होगा AAP का मेयर, SC ने पलटा फैसला; कहा- अपराध हुआ था

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें