ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRपांच हजार सीसीटीवी कैमरों से नजर, 24 घंटे लाइव फुटेज; राजनिवास से पूरी दिल्ली की निगरानी करेंगे एलजी

पांच हजार सीसीटीवी कैमरों से नजर, 24 घंटे लाइव फुटेज; राजनिवास से पूरी दिल्ली की निगरानी करेंगे एलजी

दिल्ली के उप राज्यपाल वीके सक्सेना राजनिवास से शहर की सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी करेंगे। इस दौरान वे पुलिस मुख्यालय स्थित दिल्ली पुलिस के कमांड एंड कंट्रोल सेंटर के साथ लगातार संपर्क में रहेंगे।

पांच हजार सीसीटीवी कैमरों से नजर, 24 घंटे लाइव फुटेज; राजनिवास से पूरी दिल्ली की निगरानी करेंगे एलजी
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 09 Sep 2023 05:31 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के उप राज्यपाल वीके सक्सेना राजनिवास से शहर की सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी करेंगे। इस दौरान वे पुलिस मुख्यालय स्थित दिल्ली पुलिस के कमांड एंड कंट्रोल सेंटर के साथ लगातार संपर्क में रहेंगे। राजनिवास के मुताबिक, उप राज्यपाल नौ सितंबर को अपने कार्यालय से पूरे दिन पुलिस मुख्यालय के अत्याधुनिक नियंत्रण कक्ष के कमांड रूम के संपर्क में रहेंगे। 

इस दौरान शिखर सम्मेलन के लिए की गई सुरक्षा पर कड़ी निगाह रखी जाएगी। उप राज्यपाल नियंत्रण कक्ष में स्थापित हाईटेक गैजेट्स के माध्यम से शहर में सम्मेलन के मद्देनजर किए गए सुरक्षा संबंधित इंतजामों और हर सड़क व तय होटलों पर भी पुलिस आयुक्त के माध्यम से नजर रखेंगे।

सीसीटीवी कैमरों की मदद ली जाएगी 

उप राज्यपाल ने हाल ही में नियंत्रण कक्ष का निरीक्षण करने के दौरान दिल्ली पुलिस आयुक्त के साथ कर्मियों की तैनाती की बारीकियों और पूरे शहर में निगरानी रखने के लिए किए गए उच्च तकनीकी सुरक्षा उपायों पर विस्तृत चर्चा की थी। यहां पर विभिन्न हिस्सों में स्थापित पांच हजार से अधिक सीसीटीवी कैमरों के जरिए निगरानी की जाएगी।

प्रत्येक जिले से 24 घंटे सूचनाएं प्राप्त की जा रही 

नियंत्रण कक्ष में सामान्य आकार के मॉनिटरों के अलावा दो विशाल स्क्रीन लगाई गई है, जिनमें लाइव फुटेज को बड़ा करके देखा जा सकता है। नियंत्रण कक्ष में तकनीकी विशेषज्ञ भी तैनात किए गए हैं, ताकि बिना किसी गड़बड़ी के सभी कार्यों को संपन्न किया जा सके। पुलिस आयुक्त ने उप राज्यपाल को बताया है कि प्रत्येक जिले से 24 घंटे सूचनाएं प्राप्त की जा रही हैं और वहां पुलिसकर्मियों की पूरी तैनाती गई है।

प्रदूषण से निपटने को चार एंटी स्मॉग गन लगाईं

जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान प्रदूषण से निपटने के लिए चार एंटी स्मॉग गन लगाई गई हैं। नई दिल्ली नगर पालिका परिषद सदस्य कुलजीत सिंह चहल ने बताया कि पूरे एनडीएमसी क्षेत्र में कचरा प्रबंधन पर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। चहल ने बताया कि एनडीएमसी क्षेत्र की सफाई के लिए लगभग 2100 कर्मचारियों की तैनाती की गई है, जो तीन शिफ्ट में काम कर रहे हैं। वहीं, घरों से कचरा एकत्रित करने के लिए 38 वाहन लगाए गए हैं। एनडीएमसी का बड़ा क्षेत्र हरियाली वाला है। इसके चलते यहां पर हरित कचरा भी बड़ी मात्रा में निकलता है। इस हरित कचरे को एकत्रित करने के लिए भी 12 वाहनों को लगाया गया है। वहीं, मच्छर जनित बीमारियों की रोकथाम के लिए मच्छर रोधी अभियान भी चलाया जा रहा है। एनडीएमसी क्षेत्र में 165 कर्मचारियों की तैनाती मच्छर रोधी अभियान के लिए की गई है।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें