ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRअब तक तो 10 छापे पड़ जाने थे; सिसोदिया के घर CBI रेड पर BJP के साथ कांग्रेस

अब तक तो 10 छापे पड़ जाने थे; सिसोदिया के घर CBI रेड पर BJP के साथ कांग्रेस

शराब नीति में कथित गड़बड़ी को लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के खिलाफ सीबीआई की छापेमारी चल रही है। सात राज्यों में 21 ठिकानों पर यह छापेमारी की जा रही है। अब राजनीति भी तेज हो गई है।

अब तक तो 10 छापे पड़ जाने थे; सिसोदिया के घर CBI रेड पर BJP के साथ कांग्रेस
Sudhir Jhaएएनआई,नई दिल्लीFri, 19 Aug 2022 11:38 AM
ऐप पर पढ़ें

शराब नीति में कथित गड़बड़ी को लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के खिलाफ सीबीआई की छापेमारी चल रही है। सात राज्यों में 21 ठिकानों पर यह छापेमारी की जा रही है। छापा पड़ते ही इस पर राजनीति भी तेज हो गई है। आम आदमी पार्टी ने जहां इसे 'अच्छे काम' को रोकने की कोशिश बताया है तो भाजपा कह रही है कि केजरीवाल सरकार खजाना लूटने के बाद विक्टिम कार्ड खेल रही है। वहीं, अब इस मुद्दे पर बीजेपी को कांग्रेस का साथ मिला है। कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बेटे संदीप दीक्षित ने कहा है कि सीबीआई ने काफी देर कर दी है।

संदीप दीक्षित ने एएनआई से बातचती के दौरान शराब नीति के अलावा स्कूल बनाने और शिक्षक भर्ती में भी गड़बड़ी का आरोप लगाया और पूछा कि 7-8 साल तक रेड क्यों नहीं डाली गई। संदीप ने कहा, '' दिल्ली सरकार में पिछले 7-8 साल से जो हो रहा था, इसमें आश्चर्य ये है कि अब तक रेड क्यों नहीं पड़ी? आबकारी नीति, स्कूल बनाने में धांधली, शिक्षक भर्ती घोटाला, सिविल डिफेंस भर्ती घोटाला जिसमें भी आप देखेंगे तो उसमे 1 नहीं 10-10 छापे पड़ने चाहिए।''

यह भी पढ़ें: मनीष सिसोदिया के घर क्यों पड़ा CBI का छापा, क्या हैं आरोप 

कांग्रेस के प्रवक्ता पवन खेड़ा ने लिखा, ''एजेंसियों के निरंतर दुरुपयोग का एक बड़ा नुकसान यह भी होता है कि जब वह एजेंसी सही काम भी करे तब भी उसके कदम को शक की दृष्टि से देखा जाता है। ऐसे में भ्रष्ट लोग दुरुपयोग की दुहाई देकर बच निकलते हैं और जो ईमानदारी से जनता के मुद्दे उठाते हैं, वो दुरुपयोग का शिकार होते रहते हैं।''

केजरीवाल ने कहा- अच्छे काम रोकने की कोशिश
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने उपमुख्यमंत्री का बचाव करते हुए कहा है कि दिल्ली में अच्छे काम को रोकने के लिए छापेमारी की गई है। उन्होंने टाइमिंग को लेकर भी सवाल किया। केजरीवाल ने ट्वीट किया, ''जिस दिन अमेरिका के सबसे बड़े अखबार NYT के फ्रंट पेज पर दिल्ली शिक्षा मॉडल की तारीफ और मनीष सिसोदिया की तस्वीर छपी, उसी दिन मनीष के घर केंद्र ने सीबीआई भेजी। सीबीआई का स्वागत है। पूरा सहयोग करेंगे। पहले भी कई जांच/रेड हुई। कुछ नहीं निकला। अब भी कुछ नहीं निकलेगा।'' उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ''दिल्ली के शिक्षा और स्वास्थ्य मॉडल की पूरी दुनिया चर्चा कर रही है।इसे ये रोकना चाहते हैं। इसीलिए दिल्ली के स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्रियो पर रेड और गिरफ्तारी। 75 सालों में जिसने भी अच्छे काम की कोशिश की,उसे रोका गया। इसीलिए भारत पीछे रह गया। दिल्ली के अच्छे कामों को रुकने नहीं देंगे।

भाजपा ने कहा- शिक्षा नहीं, शराब की हो रही बात
केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर कहा कि जो लोग भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन की बात करते थे और राजनीति में नहीं आने की बात कर रहे थे। वे राजनीति में भी आए और भ्रष्टाचार में भी लिप्त हुए। उन्होंने कहा, '' भ्रष्टाचारी जितना मर्जी ईमानदारी का चोला पहन ले, वह भ्रष्टाचारी ही रहता है। आम आदमी पार्टी का भ्रष्टाचार कई बार सामने आया है। आज मुद्दा है शराब के ठेकों का और इसमें हुए भ्रष्टाचार का। इसके मंत्री हैं, मनीष सिसोदिया जी। जिस दिन सीबीआई की जांच दी उसी दिन शराब नीति को वापस लिया। अगर शराब नीति में कोई घोटाला नहीं था तो उसे वापस क्यों लिया। क्योंकि शराब के ठेकों में भ्रष्टाचार हुआ। अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया की साठगांठ सामने आई। सीबीआई और जांच का डर केजरीवाल जी को मजबूर करती है ट्वीट करने पर। यह शिक्षा नहीं, शराब की बात हो रही है और शराब के ठेकों में भ्रष्टाचार की बात हो रही है। जनता को मूर्ख ना समझें, राष्ट्र के नाम अपना संदेश देना बंद करें।''

epaper