ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली-NCR में अवैध कॉलोनी पर चला बुलडोजर, 80 करोड़ की जमीन कब्जा मुक्त

दिल्ली-NCR में अवैध कॉलोनी पर चला बुलडोजर, 80 करोड़ की जमीन कब्जा मुक्त

Bulldozer Action In Delhi-NCR: ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने ग्राम तुस्याना की अधिसूचित जमीन पर बन रहे अवैध निर्माण को तोड़ दिया। प्राधिकरण की टीम ने करीब 40 हजार वर्ग मीटर जमीन मुक्त कराई है।

दिल्ली-NCR में अवैध कॉलोनी पर चला बुलडोजर, 80 करोड़ की जमीन कब्जा मुक्त
Mohammad Azamलाइव हिंदुस्तान,ग्रेटर नोएडाSat, 03 Feb 2024 03:02 PM
ऐप पर पढ़ें

Bulldozer Action In Delhi-NCR: ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने ग्राम तुस्याना की अधिसूचित जमीन पर बन रहे अवैध निर्माण को तोड़ दिया। प्राधिकरण की टीम ने करीब 40 हजार वर्ग मीटर जमीन मुक्त कराई है, जिसकी कीमत करीब 80 करोड़ रुपये होने का आकलन है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के ओएसडी हिमांशु वर्मा ने बताया कि गांव तुस्याना प्राधिकरण के अधिसूचित एरिया में है। कुछ कालोनाइजर गांव की जमीन पर अवैध निर्माण कर रहे थे। वे कॉलोनी काट रहे थे। परियोजना विभाग के वर्क सर्किल तीन के मैनेजर मनोज कुमार के नेतृत्व में प्राधिकरण की टीम ने स्थानीय सुरक्षाकर्मियों के साथ गुरुवार सुबह मौके पर पहुंची और अवैध निर्माण को ढहा दिया। टीम ने करीब 40000 वर्ग मीटर जमीन मुक्त करा लिया। पांच जेसीबी और एक डंपर का इस्तेमाल कर यह कार्रवाई की गई। 

ओएसडी ने चेतावनी दी है कि प्राधिकरण के अधिसूचित एरिया में जमीन कब्जाने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने हर वर्क सर्किल को अपने एरिया में जमीन पर अतिक्रमण रोकने के लिए कड़ी नजर रखने और अतिक्रमण की सूचना मिलते ही कार्रवाई करने के निर्देश दिए। प्राधिकरण ने चेतावनी दी है कि अधिसूचित एरिया में अवैध निर्माण कर जमीन कब्जाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

ग्रीन एरिया में बनाए गए अवैध क्योस्क तोड़े प्राधिकरण ने गुरुवार को ग्रेनो वेस्ट स्थित सुपरटेक इको विलेज-1 सोसाइटी के मार्केट परिसर में अवैध रूप से बने 15 क्योस्क पर बुलडोजर चलाया। बुधवार को एक फूड स्टॉल में आग लगने के बाद यह कार्रवाई की गई। सुपरटेक इको विलेज-1 सोसाइटी के बाहर मार्केट में क्योस्क बने थे। ये ग्रीन एरिया में अवैध रूप से बना गए थे। इनमें फूड स्टाल समेत अन्य दुकानें संचालित हो रही थीं। सोसाइटी के लोगों ने प्राधिकरण से कई बार शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। बुधवार को शॉर्ट सर्किट होने के कारण एक फूड स्लॉट में भीषण आग लग गई। इससे लाखों रुपए का नुकसान हो गया। गुरुवार को प्राधिकरण की टीम सोसाइटी की मार्केट में बुलडोजर लेकर पहुंच गई। इसके बाद 1100 बजे अवैध क्योस्क को ध्वस्त करने का कार्य शुरू किया गया।

निवासियों का कहना है कि प्राधिकरण से अब से पहले भी अवैध निर्माण को लेकर कई बार शिकायत की गई थी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। अब एक फूड स्टॉल में भीषण आग लगने के बाद प्राधिकरण की आंखें खुलीं। आग इतनी भीषण थी कि बड़ा हादसा हो सकता था, लेकिन समय रहते अग्निशमन विभाग ने आग पर काबू पा लिया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें