ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRNCR के दो शहरों में बुलडोजर एक्शन, वन भूमि में बने 100 घर तोड़े; गुरुग्राम में 9 कॉलोनियां जमींदोज

NCR के दो शहरों में बुलडोजर एक्शन, वन भूमि में बने 100 घर तोड़े; गुरुग्राम में 9 कॉलोनियां जमींदोज

एनसीआर के दो शहरों में प्रशासन ने सख्ती दिखाते हुए अवैध निर्माण पर बुलडोजर चला दिया। फरीदाबाद में वन भूमि पर बने 100 घर तोड़ दिए। वहीं गुरुग्रांम में नो कॉलोनियों को मलबे में मिला दिया।

NCR के दो शहरों में बुलडोजर एक्शन, वन भूमि में बने 100 घर तोड़े; गुरुग्राम में 9 कॉलोनियां जमींदोज
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 20 Jun 2024 07:53 AM
ऐप पर पढ़ें

फरीदाबाद और गुरुग्राम में बुधवार को अवैध निर्माण पर प्रशासन ने सख्ती दिखाते हुए बुलडोजर चला दिया। फरीदाबाद में खोरी की वन भूमि पर बनाए गए 100 घरों में तोड़फोड़ कर कब्जा मुक्त करवाया। वहीं, गुरुग्राम में नगर एवं ग्राम नियोजन विभाग ने गांव फर्रुखनगर, खुर्मपुर और मुबारिकपुर में अवैध निर्माण गिरा दिए।

खोरी वन भूमि में बने 100 घर तोड़े

फरीदाबाद नगर निगम प्रशासन ने खोरी की वन भूमि पर बनाए गए 100 घरों में तोड़फोड़ कर वन भूमि को कब्जा मुक्त करवा लिया। कब्जाधारियों ने विरोध जताने का प्रयास किया। लेकिन, पुलिस बल के कारण वे कार्रवाई को रोकने में कामयाब नहीं हो सके। सुप्रीम कोर्ट आदेश पर करीब तीन साल पहले दिल्ली बॉर्डर पर खोरी गांव में पूरे वन क्षेत्र से अवैध कब्जे हटवा दिए गए थे। इसके बाद से लोग यहां अस्थाई घर बनाते आ रहे हैं। नगर निगम प्रशासन यहां कई बार तोड़फोड़ कर चुका है। 

पिछले कुछ समय से लोगों ने यहां 100 घर बना लिए थे। नगर निगम प्रशासन ने हाल ही में इन्हें तोड़ने की योजना बनाई थी। बुधवार को नगर निगम का दस्ता यहां तोड़फोड़ करने पहुंच गया। यहां डयुटी मजिस्ट्रेट कार्यकारी अभियंता नितिन कादियान थे। पुलिस बल की मौजूदगी में नगर निगम के तोड़फोड़ दस्ते ने 100 घरों को ढहा दिया। नगर निगम के एसडीओ सुरेंद्र हुड्डा ने बताया कि सन् 2022 में यहां करीब दो हजार से अधिक घरों को तोड़कर वन भूमि को कब्जा मुक्त करवाया गया था। काफी लोगों को बापू नगर और डबुआ में बसाया गया था। लेकिन कुछ लोगों ने फिर से जमीन पर कब्जा करना शुरू कर दिया है।

नौ कॉलोनियों को मलबे में मिलाया

गुरुग्राम नगर एवं ग्राम नियोजन विभाग ने बुधवार को फर्रुखनगर ब्लॉक के गांव फर्रुखनगर, खुर्मपुर और मुबारिकपुर में अवैध रूप से पनप रही नौ कॉलोनियों को मलबे में तब्दील कर दिया। पुलिस बल की मौजूदगी में अभियान चला, किसी तरह का विरोध सामने नहीं आया। इस मौके पर ड्यूटी मैजिस्ट्रेट के रूप में एटीपी दिनेश सिंह मौजूद रहे।

सुबह 11 बजे डीटीपीई मनीष यादव के नेतृत्व में तोड़फोड़ दस्ता गांव फर्रुखनगर में पहुंच गया। यहां 24 एकड़ जमीन पर अवैध रूप से सात कॉलोनियां विकसित की जा रही थी। मौके पर सर्विस स्टेशन का निर्माण हुआ था, जिसे मलबे में मिला दिया। एक निर्माणाधीन मकान को तोड़ दिया। 43 मकान बनाने के लिए बनाई गई चारदीवारी को ढहा दिया। 100 मीटर लंबी सड़क को उखाड़ दिया।

इसके बाद तोड़फोड़ दस्ता गांव खुर्मपुर में पहुंच गया। यहां करीब चार एकड़ में कॉलोनी काटी जा रही थी। छह मकान बनाने के लिए चारदीवारी कर दी थी। 150 मीटर लंबी सड़क बना दी थी। इन्हें जेसीबी से मलबे में मिला दिया। गांव मुबारिकपुर में 12 मकान बनाने के लिए हुई चारदीवारी को जमींदोज कर दिया। इस मौके पर योजना अधिकारी पुनीत, कनिष्ठ अभियंता नवीन के अलावा विक्रम और सोनू मौजूद रहे। उधर, एचएसवीपी ने सेक्टर 10 में अधिग्रहित जमीन पर अवैध रूप से डली झुग्गियों को तोड़ा। यहां करीब 60-70 झुग्गियां डली हुई थी।