ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRमेट्रो, रैपिडेक्स और रेल; दिल्ली-NCR की तेज होने वाली है रफ्तार, बजट में मिला पैसा

मेट्रो, रैपिडेक्स और रेल; दिल्ली-NCR की तेज होने वाली है रफ्तार, बजट में मिला पैसा

दिल्ली-एनसीआर की रफ्तार और तेज होने वाली है। दिल्ली-मेरठ के बाद नमो भारत के दूसरे रूटों को भी रफ्तार मिलेगी। बजट भाषण में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसका उल्लेख किया है। सरकार ने 3596 करोड़ दिए।

मेट्रो, रैपिडेक्स और रेल; दिल्ली-NCR की तेज होने वाली है रफ्तार, बजट में मिला पैसा
Sudhir Jhaहिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 02 Feb 2024 05:37 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली-मेरठ के बाद नमो भारत के दूसरे रूटों को भी रफ्तार मिलेगी। बजट भाषण में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसका उल्लेख किया है। नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (एनसीआरटीसी) को गत वर्ष की तरह इस बार भी 3596 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। दिल्ली-मेरठ रूट के बाद दिल्ली अलवर रूट पर काम शुरू होना है।

बजट भाषण में केंद्र सरकार ने दर्शाया है कि शहरों के बीच आसान सफर के लिए नमो भारत ट्रेन उसकी प्राथमिकता में शामिल है। इससे नमो भारत के दूसरे ट्रैक पर जल्दी काम शुरू होने की उम्मीद है। दिल्ली-मेरठ रूट पर 17 किलोमीटर की दूरी में नमो भारत का संचालन हो रहा है। अगले वर्ष तक सरायकाले खां से मेरठ के बीच नमो भारत दौड़ने लगेगी। एनसीआरटीसी ने इसके साथ दिल्ली-अलवर रूट पर तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए गुरुग्राम में रूट बदला जा रहा है। एयरोसिटी के बाद नमो भारत का संचालन यहां एनएच पर ही होगा। इस ट्रैक को जल्द ही केंद्र सरकार से मंजूरी मिलने की उम्मीद है।

लगातार मिल रहा है धन 
नमो भारत ट्रेन सरकार की प्राथमिकता में शामिल हैं। इसे वर्ष 22-23 में 4710 करोड़ रुपए आवंटित किए गए थे। 2023-24 और 2024-25 में प्रतिवर्ष 3596 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है। विशेषज्ञों का कहना है कि लगातार काम चल रहा है और भविष्य में दूसरे ट्रैक पर काम शुरू होने पर आवंटन बढ़ सकता है।

दिल्ली-अलवर के बीच रेल ट्रैक बनेगा
राजधानी में रेलवे से संबंधित विकास कार्यों और सुरक्षा के लिए केंद्र ने बजट में 2577 करोड़ रुपए आवंटित किए हैं। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव का दावा है कि यूपीए-2 सरकार के समय में दिल्ली रेलवे को मिलने वाली राशि का यह 25 गुना से भी ज्यादा है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2024-25 के लिए दिल्ली डिवीजन को मिले बजट से दिल्ली से अलवर के बीच 104 किलोमीटर का नया ट्रैक बनाया जाएगा। नई दिल्ली से तिलक ब्रिज के बीच 5वीं और छठी लाइन बनाई जाएगी, जिसकी लंबाई 2.65 किलोमीटर है।

साहिबाबाद मेट्रो रूट की उम्मीद जगी
बजट में मेट्रो विस्तार को गति देने के ऐलान के बाद साहिबाबाद से नोएडा सेक्टर-62 तक मेट्रो रूट की उम्मीद भी जगी है। गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) इस योजना पर लंबे समय से काम कर रहा है। जीडीए मेट्रो की रेड और ब्लू लाइन को जोड़ने में जुटा है। इसे लेकर प्राधिकरण ने दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन से संशोधित डीपीआर तैयार कराई है। जीडीए ने संशोधित डीपीआर शासन को भेज दी है। अब शासन स्तर से इस संशोधित डीपीआर को अप्रूवल दिया जाएगा।

गाजियाबाद-जेवर परियोजना तेज होगी
अंतरिम बजट से गौतमबुद्ध नगर की मेट्रो, नमो भारत ट्रेन और जेवर से चोला, खुर्जा और पलवल तक ट्रेन लाइन परियोजना को गति मिलेगी। ग्रेनो वेस्ट मेट्रो, सेक्टर-142 मेट्रो रूट के लिए फंड का इंतजाम हो सकेगा। इसी तरह गाजियाबाद से जेवर एयरपोर्ट तक प्रस्तावित नमो भारत ट्रेन में फंड की कमी आड़े नहीं आएगी। नमो भारत ट्रेन गाजियाबाद से नोएडा एयरपोर्ट तक 72.2 किलोमीटर लंबे कॉरिडोर पर चलेगी। नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड कंपनी एक्वा लाइन मेट्रो का विस्तार करेगी।

एनसीआर प्लानिंग बोर्ड के लिए 55 करोड़ रुपए
एनसीआर प्लानिंग बोर्ड के लिए बजट में 55 करोड़ रुपए दिए गए हैं। पिछले वर्ष एनसीआर प्लानिंग बोर्ड को 65 करोड़ रुपए आवंटित हुए थे। लेकिन संशोधित बजट में इसे घटाकर 55 करोड़ कर दिया गया। दिल्ली में अर्बन आर्ट कमीशन को 5.25 करोड़ रुपए का आवंटन बजट में किया गया है।

अस्पतालों का बजट बढ़ा
राजधानी दिल्ली में एम्स समेत केंद्र के तीन अस्पतालों के बजट में कुल 737.62 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी हुई है। इनमें एम्स, आरएमएल और बच्चों के अस्पताल कलावती सरन का वित्तीय बजट बढ़ा है, जबकि सफदरजंग अस्पताल, लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज और इससे जुड़े सुचेता कृपलानी अस्पताल के बजट में मामूली कटौती की गई है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें